दो दिन की तोर ज़िन्दगी, तेय़ भजले सियाराम रे...भजन गीत

ग्राम-परमेश्वरपुर, ब्लॉक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से हरिशचन्द्र एक भजन गीत सुना रहे है:
तम्बूरा के तार बोले रे, टिम-टिम तार बोले राम सियाराम-
दो दिन की तोर ज़िन्दगी, तेय़ भजले सियाराम रे-
एक ये माटी के चौला, छोड़ तूके उड़ जाई-
अरे देखत रही ये दुनिया, हर कुछो नही कर पाई-
ये दुनिया तोर काम न आही, भजले राम सियाराम-
दो दिन की तोर ज़िन्दगी, तेय़ भजले सियाराम रे...

Posted on: Apr 24, 2018. Tags: HARISH CHANDRA