किसान स्वर : गेंदा फूल बेचकर अपनी रोज़ी रोटी चला रहा हूँ, इससे मेरी अच्छी आय हो जाती है...

हरिराम पटेल ग्राम-जिपाटोला, तहसील-चारामा, जिला-कांकेर के है वे बता रहे है कि वे गेंदा फूल की खेती करते है इसका बीज लगाते है पौधा होने के बाद एक फिट के पौधे को लगाते है उसके बाद पानी सिंचाई करते है| उसके एक महीने के अन्दर गोड़ाई करके खाद डालकर क्यारी बनाते है क्यारी बनाने के बाद 8 दिन के अंदर दवाई डालते है तो हराभरा होता है कुछ दिनों बाद फूल निकलने लगते है उसके बाद टॉनिक देते है टॉनिक देने के बाद फूल हराभरा होता तोड़ने लायक होता है तोड़ने के बाद मेला में या मंडई में बेचने ले जाते है और एक गुड्वा का एक हजार रूपये में बेचते है और एक गुड्वा में लगभग 3-4 टोकनी रहता है और उनको गेंदा की खेती करने के लिए लगभग 30 साल हो गए है और उसी से रोजी रोटी चल रही है

Posted on: Dec 13, 2017. Tags: HARIRAM PATEL