जागो-जागो देशवासियों युवक गण तुम जाग उठो...कविता

ग्राम-बाबूकोड, तहसील-त्योंतर, जिला-रीवा (म.प्र.) से हरिलाल कोरी एक कविता सुना रहे हैं:
जागो-जागो देशवासियों युवक गण तुम जाग उठो-
भारत देश हैं डूबने वाला, इसको तुम बचा सको-
भ्रष्टाचार जातिवाद,भ्रष्टाचार जातिवाद अलगाववाद को रोको-
जागो-जागो देशवासियों युवक गण...

Posted on: Sep 01, 2016. Tags: HARILAL KORI

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download