न ये तोप के गोले रखते न बंदूक की गोलियां...कविता-

राजनांदगांव (छत्तीसगढ़) से विरेन्द्र गंधर्व एक कविता सुना रहे हैं:
न ये तोप के गोले रखते न बंदूक की गोलियां-
यत्र तत्र सर्वत्र बिखरते स्वास्थ्य कर्मियों की टोलियाँ-
स्वास्थ्य कर्मी यदि पुरुष है तो वो वीर है-
यदि महिला है तो वीरांगना-
रोगी को निरोगी करने के लिये नींद भी पड़ा है त्यागना-
सैनिक रहते मैदानों में ये रहते अस्पतालों में-
न ये तोप के गोले रखते न बंदूक की गोलियां...

Posted on: Apr 10, 2020. Tags: CG CORONA POEM RAJNANDGAON VIRENDRA GANDHARV

Bultoo (Bluetooth) Radio on Corona : 10th April 2020...

श्रोताओं आज हम लेकर आये हैं बुल्टू रेडियो जिसे प्रस्तुत कर रहे हैं बाबूलाल नेटी और कीर्ति साहू इस रेडियो कार्यक्रम में आज देश में फैले महामारी के बारे में बताते हुये, जागरूकता संदेस दिया जा रहा है इसमें लोग गीत गा रहे हैं और आज कोरोना महामारी से बचने के लिये क्या करना है इस पर चर्चा कर रहे हैं, इन संदेसो को आप सीजीनेट के नंबर 08050068000 पर मिस्ड कॉल कर सुन सकते हैं और cgnetswara.org पर डाऊनलोड किया जा सकता है, जिन इलाके में इंटरनेट की सुविधा नहीं है इसे ब्लूटूथ से शेयर कर सुनते हैं, स्मार्ट फोन में बुल्टू एप का उपयोग कर संदेश सुनते और रिकॉर्ड करते हैं|

Posted on: Apr 10, 2020. Tags: BABULAL NETI BULTOO RADIO CORONA KIRTI SAHU

मेरे वन उपवन में इस जन जीवन में...गीत-

ग्राम-गारे, जिला-रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से समय सिदार एक गीत सुना रहे हैं:
मेरे वन उपवन में इस जन जीवन में-
कब होगा सबेरा-
मेरे राम जाने, मेरे राम जाने-
मैंने ये देखा है मैंने ये सोंचा है-
कान में भांवर गुनगुनाते हैं-
मेरे वन उपवन में इस जन जीवन में...

Posted on: Apr 10, 2020. Tags: CG RAIGARH SAMAY SIDAR SONG

स्वास्थ्य स्वर : गर्मी में जी मचलाना उल्टी होने की समस्या का घरेलू उपचार-

ग्राम-कुम्हार गनिया, पोस्ट-बाजार चारभाटा, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य कनकराम कौशिक गर्मी के दिनों में उल्टी आने जी मचलाने की समस्या का घरेलू उपचार बता रहे हैं, इसके लिये एक नीबू को काटकर उसमे नमक लगाकर कुछ समय के लिये रख दें उसके बाद उसे चूसें इससे उल्टी जी मिचलाना जैसी समस्या में आराम मिल सकता है, संबंधित विषय पर जानकारी के लिये संपर्क कर सकते हैं: कनकराम कौशिक@9179998149.

Posted on: Apr 10, 2020. Tags: CG HEALTH KABIRDHAM KANAKRAM KAUSHIK

हमर शिवा गुरु के चार गो दुवार...गीत-

ग्राम-केरकेट्टा, थाना-उचारी रोड, जिला-पलामू (झारखण्ड) से ज्योती कुमारी एक गीत सुना रही हैं:
हमर शिवा गुरु के चार गो दुवार-
होकी चारो गेट खुल्ला रहे ला-
पहिला दुवारी मा कचरा मरल रहे-
हमारा तनिको न नई खे ध्यान-
कि जेक कचरा साफ करे ला...

Posted on: Apr 10, 2020. Tags: JHARKHAND JYOTI KUMARI PALAMU SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download