जागो-जागो मूलनिवासी जागो-जागो...गोंडवाना जागरूकता गीत

ग्राम-भेड़िया, पोस्ट-भेड़िया, तहसील-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़)
से गोंडवाना राजकुमार पोया और उनके साथी एक गोंडवाना गीत सुना रहे है:
जागो रे गोंडवाना के वंशजो अब सोने का वक्त नहीं-
जो गोंडवाना के गाना को नकारता है उसे सुनने का वक्त नहीं-
जागो-जागो मूलनिवासी जागो-जागो-
जागो-जागो मूलनिवासी हीरा दादा कहत है-
भैया छोड़ो दारु पीना भैया छोड़ो-
भैया छोड़ो दारु पीना हीरा दादा कहत है...

Posted on: Feb 03, 2017. Tags: GONDWANA RAJKUMAR POYA

मैं चीन्ह डालूं रे गोंडवाना गोंडी धरम इतिहास...गोंडवाना गीत

ग्राम-भेड़िया, पोस्ट-भेड़िया, तहसील-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर छत्तीसगढ़ से गोंडवाना राजकुमार पोया एक गोंडवाना के बारे में गीत सुना रहे है:
मैं चीन्ह डालूं रे गोंडवाना गोंडी धरम इतिहास-
मैं जान डालूं रे गोंडवाना गोंडी धरम इतिहास-
गोंडवाना राज म,भेड़िया के ताज म-
प्रकृति ला जान डालूं व्यक्ति ला जान डालूं-
संघठन ला जान डालूं शक्ति ला जान डालूं-
मैं चीन्ह डालूं रे...

Posted on: Dec 15, 2016. Tags: GONDWANA RAJKUMAR POYA

दारु झन पिबे यार मिट जाहि जिन्दगी के डेरा...शराब विरोधी गीत

ग्राम भेढिया, पोस्ट भेढिया, तहसील प्रतापपुर, जिला सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से साथी गोंडवाना राज कुमार पोया शराब से संबधित एक गीत सुना रहे हैं :
यही एक देश है, जहा का मालिक मजदूर है-
भक्ति साहस सब है, पर दारू पीकर मजबूर है-
...
दारु झन पिबे यार मिट जाहि जिन्दगी के डेरा-
दारू के करम हार मिट जाहि जिंदगी के डेरा-
मुह के भार पेड़ी ले महुआ गिरत हे-
वोसे गिराय दिही तोला-
दारु झन पिबे यार मिट जाहि जिन्दगी के डेरा-
महुआ लान के अंगना सुखाते-
वोसे सुखाय दिही तोला-
दारु झन पिबे यार मिट जाहि जिन्दगी के डेरा...

Posted on: Nov 02, 2016. Tags: GONDWANA RAJKUMAR

जागो-जागो गा मोरे गोंडवाना के मूलनिवासी जागो-जागो न...गोंडवाना गीत

ग्राम-बेडिया, पोस्ट-बेडिया, थाना-चंदोरा, तहसील -प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर, (छत्तीसगढ़) से गोंडवाना राजकुमार पोया के साथ स्कूल के कुछ बच्चे हैं, जो एक गोंडवाना गीत सुना रहे हैं:
जागो -जागो गा मोरे गोंडवाना के मूलनिवासी जागो -जागो न-
पहेली जगाऊ माता -पिता दूजे बड़ा देवता हाय गा दूजे बड़ा देवता-
जागो-जागो गा मोरे गोंडवाना के मूलनिवासी जागो-जागो रे...

Posted on: Oct 22, 2016. Tags: GONDWANA RAJKUMAR

भूमि, गगन, वायु, जल और अग्नि मिलकर ही भगवान हैं, प्रकृति ही बड़ा देव है: गोंडवाना दर्शन...

ग्राम भेडिया, पोस्ट भेडिया, थाना चौदरा, तहसील प्रतापपुर, जिला सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से गोंडवाना राजकुमार पोया गोंडवाना समाज में प्रचलित विभिन्न शब्दों के अर्थ बता रहे हैं | वे बताते हैं कि जय सेवा का अर्थ है एक दूसरे की सेवा करना । बड़ा फेन का अर्थ है बड़ा देव । वे कह रहे हैं कि हमारा शरीर प्रकृति के पांच तत्वों से बना हुआ है और वही भगवान है जो इन पांच तत्वों भूमि गगन वायु जल और अग्नि से मिलकर बना है । वे कहते हैं यही बड़ा देव है जिसकी हमें पूजा अर्चना करनी चाहिए । वे कहते हैं गोंडवाना एक भूभाग का नाम है और यह किसी एक जाति विशेष के लिए नहीं है । मध्यप्रदेश के अनूपपुर जिले में अमरकंटक से दक्षिण का हिस्सा गोंडवाना भूभाग कहलाता है । राजकुमार@9669126536

Posted on: Oct 21, 2016. Tags: GONDWANA RAJKUMAR

« View Newer Reports