खेलत गेंद कन्हाई हो यमुना के किनारे...भक्ति गीत

ग्राम-भिटौहां, जिला-रीवा, मध्यप्रदेश से गायत्री कुशवाहा एक भक्ति गीत प्रस्तुत कर रही हैं:
खेलत गेंद कन्हाई हो यमुना के किनारे-
मारिन गेंद यमुना में गिरि गए-
कूदि पड़े रघुराई हो यमुना के किनारे-
खेलत गेंद कन्हाई हो यमुना के किनारे-
घाटन-घाटन फिरति यशोमति-
कहाँ गयो रघुराई हो यमुना के किनारे-
पांच्यो फन फुंफकार के मारें-
श्यामल हो गए रघुराई हो यमुना के किनारे-
खेलत गेंद कन्हाई हो यमुना के किनारे...

Posted on: Jan 12, 2016. Tags: GAYATRI KUSHWAHA