काय करेना बोटी पढले नहीं लिखले नहीं काय करेंदे...हल्बी शिक्षा गीत -

ग्राम-टेकनार, जिला-दंतेवाडा (छत्तीसगढ़) से शिक्षक गंगाधर नेताम शिक्षा से सम्बंधित हल्बी गीत सुना रहे है. इस गीत के माध्यम से वे बता रहे है कि एक माता पिता जो अनपढ़ है अपने बच्चे को स्कूल नहीं भेजे इसलिए वह बच्चा भी उनकी तरह पढ़ लिख नहीं सका:
काय करेना बोटी पढले नहीं लिखले नहीं काय करेंदे-
नी पढले नी लिखले काय करेंदे-
काया बुबा नीपटला काय करेंदे न बोटी तोके काय सांगेदी-
स्कूल गेले गुरूजी कुटी गुरूजी पढ्त रहे आते ड्यूटी दरुन-
गपसप ले जीवन हजली घंटी बजली टिंग-टिंग ली-
काय करेना बोटी पढले नहीं लिखले नहीं काय करेंदे...

Posted on: Nov 11, 2017. Tags: GANGADHAR NETAM DANTEWADA