क ख घ से गोदना मा गोदाला...शिक्षा गीत

दिवाकर कुमार ग्राम-सुस्ता, थाना-गायघाट, जिला-मुजफ्फरपुर, बिहार में सरकारी स्कूलों में मध्यान्ह भोजन बनाने का काम करते हैं | वे कहते हैं कि आजकल बच्चों को इस तरह से शिक्षा दी जाती है कि उन्हें अधिक समझ में नहीं आता इसलिए क ख ग सीखने के लिए उन्होंने एक गीत तैयार किया है:
क ख घ से गोदना मा गोदाला-
गोदाला हो ला मोरी बहिना-
अक्षर आँचल पढके तू पढवा-
कहाला हो मोरी बहिना-
क ख घ से गोदना गोदाला...

Posted on: Jul 30, 2017. Tags: Divakar Kumar