ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन...देश भक्ति गीत-

जिला-कोरिया (छत्तीसगढ़) से दुर्गा एक देश भक्ति गीत सुना रहे हैं :
ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन-
तुझपे दिल क़ुरबान, तू ही मेरी आरज़ू-
तू ही मेरी आबरू, तू ही मेरी जान-
ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन-
तुझपे दिल क़ुरबान, तेरे दामन से जो आए-
उन हवाओं को सलाम, तेरे दामन से जो आए
उन हवाओं को सलाम...

Posted on: Jul 27, 2019. Tags: CG DURGA KORIYA SONG

करसा में आमा डेहुरा रे सेवा सेवा...आदिवासी बूढ़ादेव गीत

जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से दुर्गावती एक आदिवासी देव बूढ़ादेव गीत सुना रही हैं:
करसा में आमा डेहुरा रे सेवा सेवा-
पसराज बबा आवथे सरना में सेवा सेवा-
सरना का तरे-तरे आवे बूढ़ादेव रे, आवे बूढ़ा देव-
सबे करा सेवा रे सबे करा सेवा-
सरना में आमा डेहुरा रे सेवा सेवा-
कलसा में आमा डेहुरा रे सेवा सेवा-
सरना का तरे-तरे आवे बूढ़ादेव रे, आवे बूढ़ा देव...

Posted on: Jun 20, 2018. Tags: DURGAVATI BALRAMPUR

छत के उपर में खड़ी हूँ तारा बने के...गीत

ग्राम-ढढ़ीया, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से दुर्गा एक गीत सुना रहीं हैं
छत के उपर मैं खड़ी हूँ तारा बने के-
आजा मेरे दोस्त सितारा बन के-
कान के बाली लेजा लाली कान के बाली लेजा-
गला के माला लेजा लाली गला के माला लेजा-
छत के उपर में खड़ी हूँ तारा बने के-
आजा मेरे दोस्त सितारा बन के-
छत के उपर में खड़ी हूँ तारा बने के...

Posted on: Jun 19, 2018. Tags: DURGA SURAJPUR

अरे भारत मावा देश, चोकोट न विकास आयाना...गोंडी देशभक्ति गीत

ग्राम-उतनूर, जिला-आदिलाबाद (तेलंगाना) से दुर्गा मोहन जी एक गोंडी गीत गा रहे हैं. गीत भारत की संस्कृति और विकास के सन्दर्भ में है :
अरे भारत मावा देश, चोकोट न विकास आयानार
दुष्ट बुद्धि-गाली माकून, चोकोट न विचार पाईजे
संग शक्ति समाज कार्य, समाज कीर्ति पाईजे माक
जन जाग्रति उपदेश मावा, जन जाग्रति उपदेश मावा
इद चोकोट न विचार केंजाना
भारत मावा देश चोकोट न...
अरे चूडुर डगुर रे समदिर जनता, सुख शांति ते मनदाना
सत्य धर्म, मानव धर्म, सत्य काम कियाना
अरे सायना बती कीर्ति राणा, संस्कृति समली कियाना
भारत मावा देश चोकोट न...
अरे सीकाटी पूछी कीसी वेर्ची ते वायाना, समदिर मुन्ने दायाना
मेहनत कीसी देश मावा, शोभा ता सुधरे मायाना
देशभक्ति बा पाटा गबाड़े, अनी शंकर मोहन वारा न
भारत मावा देश चोकोट न...

Posted on: Sep 21, 2014. Tags: Durga Mohan Gondi

हम हैं जहाँ पर है, वहां संसार ये सारा...प्रेरक गीत

मध्य प्रदेश के बालाघाट से दुर्गा कन्नौजिया एक प्रेरक गीत गा रही हैं:
वो रात का तारा, वो धूप की धारा
हम हैं जहाँ पर है, वहां संसार ये सारा
हमको उदासी की जगह, उल्लास भरना है
कोई परीक्षा हो, हमें वो पास करना है
हम हैं नई पीढी के, यह पथ है न्यारा
हम हैं जहाँ पर है, वहां संसार ये सारा
वो रात का तारा…
इस देश की संगीत की आसावरी हो तुम
पर्वत-नदी के बीच गूंजी बासुरी हो तुम
बंधन नहीं भाषा, हम तोड़ दें सारा
हम हैं जहाँ पर है, वहां संसार ये सारा
वो रात का तारा…
वो रात का तारा, वो धूप की धारा
हम हैं जहाँ पर है, वहां संसार ये सारा

Posted on: Sep 10, 2014. Tags: Durga Kannaujiya

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download