हम भी भेज दिए हैं, साथियों मंगल गृह को यह सन्देश...बाल कविता

ग्राम-पड़ेगाँव, तहसील-तमनार, जिला-रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से डॉ पी एस पुष्प एक बाल कविता सुना रहे हैं:
हम भी भेज दिए हैं साथियों-
मंगल गृह को यह सन्देश-
सकल जगत से कम नहीं हैं-
अपना प्यारा भारत देश-
सकल जहाँ से कम नहीं है-
अपना प्यारा भारत देश-
मंगल गृह के राजा को हम-
देश का हाल सुनायेंगे-
देश कैसे आगे बढेगा-
सब यही सिखलायेंगे...

Posted on: Aug 17, 2016. Tags: DR PS PUSHP

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download