मरियम के कोरा में चमके कतारा देख लेवा...क्षेत्रीय गीत-

ग्राम+पोस्ट-कोट्या, ब्लाक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से दिव्या एक क्षेत्रीय गीत सुना रही है:
मरियम के कोरा में चमके कतारा देख लेवा-
मुखड़ा है प्यारा येशु दुलारा हाय रे हमर चरन हारा-
मरियम कुवांरी गुइया बन गयलक रानी प्रभु के कृपा से-
आये गलेक पाप मिटायें में मनवा कर भेसे पापी मन कर देशे-
मरियम के कोरा में चमके कतारा देख लेवा...

Posted on: Dec 25, 2019. Tags: CG DIVYA SONG SURAJPUR

ऊपर पंखा चलती है नीचे बेबी सोती है...बाल कविता-

ग्राम-रक्सा, पोस्ट-फुनगा, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से दिब्या जोगी एक कविता सुना रही हैं:
ऊपर पंखा चलती है नीचे, बेबी सोती है-
सोते-सोते भूख लगी, खाले बेटा मुमफली-
मुमफली में दाना नहीं, तुम हमारे मामा नहीं-
नाना गये दिल्ली, दिल्ली से लाये बिल्ली-
बिल्ली मारी लात, चल पड़ी बारात-
बारात में दो बच्चे मंमी पापा अच्छे...

Posted on: Dec 15, 2019. Tags: ANUPPUR DIVYA JOGI MP POEM

सामनें एक चौवपाल है...कविता-

ग्राम-रक्सा पोस्ट-फुनगा, थाना-भालुमाड़ा, तहसील-जैतहरी, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से दिव्या एक कविता सुना रही है:
सामनें एक चौपाल है-
वहा पर कुछ लोग बेठे है-
तभी गीत ही एक ऊपर है-
चुह चुह चिड़िया चहकी-
मुह में मह मह कलियाँ महकी-
पूर्व दिशा में लाली गोली-
भारत माता बच्चों से बोली-
गीत से बस चीज के साथ...

Posted on: Nov 25, 2019. Tags: ANUPPUR MP DIVYAJOGI

कविता : अगर कंही मै घोडा होता वह भी लम्बा चौड़ा होता...

ग्राम-रक्सा, पोस्ट-फुनगा, थाना-भालूमडा, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से दिव्या जोगी एक कविता सुना रही हैं :
अगर कंही मै घोडा होता वह भी लम्बा चौड़ा होता-
तुम्हे पीठ पर बैठा करके बहोत तेज मै दौड़ा होता-
पलक झपकते मै उड़ जाता दूर पहाडियों के वादी में-
बाते करता उडी हवा से विनाये में आदि में-
अगर कंही मै घोडा होता वह भी लम्बा चौड़ा होता...

Posted on: Nov 14, 2019. Tags: ANUPPUR MP DIVYA JOGI SONG

कविता : यह कदम का पेड़ अगर ना होता यमुना तीरे...

ग्राम-रक्क्षा, पोस्ट-फुनगा, थाना-भालुमाड़ा, ब्लाक-जैहतरी, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से नांगदिव्या जोगी एक कविता सुना रही हैं:
यह कदम का पेड़ अगर ना होता यमुना तीरे-
में भी उसमे बेठ कन्हैया बनता धीरे-धीरे-
दे देती अभी मुझे बासुरी तुम दो पैसे वाली-
किसी तरह नीचें हो जाती यह कदम की डाली-
तुम्हेँ कुछ नही कहता पर में चुपकें-चुपकें आता-
उस नीची डाली से अम्मा ऊचें पर चढ़ जाता-
वही बैठ बड़े मजे मैं बांसुरी बजाता-
अम्मा-अम्मा स्वर में मैं तुम्हे बुलाता...

Posted on: Nov 06, 2019. Tags: ANUPPUR MP NAAGDIVYA JOGEE SONG

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download