घर-घर महुआ दारु चुवथे गवाई मा...नागपुरी गीत -

ग्राम-अलका, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से दिलीप कुमार धुर्वे नागपुरी बोली में एक गीत सुना रहे हैं:
घर-घर महुआ दारु चुवथे गवाई मा-
जे हर मात गए दारु के पियाई मा-
दारु के नशा मा मात गईले गा-
नई सो चले गाना ने गा-
दारु का पियायी न हो-
नई तो चले कैसे तोर जूक जांगर,बना तै आई गइले गा...

Posted on: Jul 01, 2018. Tags: DILEEP KUMAR DHURWE BALRAMPUR SONG

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download