किसान स्वर: आज हमने जल प्रबंधन के बारे में कुछ नहीं किया तो जल्द दिक्कत हो सकती है...

आज के समय में जिस प्रकार से जल स्तर घटता एवं प्रदूषित होता जा रहा है वह चिंता का विषय है, आज हमने जल प्रबंध के बारे में कुछ नहीं किया तो यह हमें शायद दक्षिण अफ्रीका से सिखना पड़ेगा जहां जल प्रबंध नहीं होने के कारण दिनों दिन जल संकट गहराता जा रहा है. बड़ी बड़ी कम्पनियों का ख़राब पानी नदियों में जाता है यह जीव जंतु एवं मानव जाति के लिए खतरा है| किसान भी आजकल ज्यादा पानी खपत वाली खेती कर रहा है, इस ओंर भी सोचने की जरुरत है. जल प्रबंध नाम मात्र रह गया है, हमें बारिस के पानी को सहेज कर रखने की जरुरत है और नदियों को प्रदूषित होने से भी बचाने के उपाय करने होंगे, नहीं तो सकंट हो सकता है.

Posted on: May 01, 2018. Tags: DHARMENDRA KUMAR DHURVE

किसान स्वर: अनाज गोदाम बनाकर सही समय में बेचना चाहिए तब सही दाम मिल सकेगा...

इंदिरा गाँधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर(छत्तीसगढ़) से धमेंद्र कुमार धुर्वे बता रहे है आज सरकार जो किसानों को समर्थन मूल्य दे रही है, वह लागत से बहुत कम है इसीलिए किसानों को अपनी फसल का सही दाम नही मिल रहा है. एक तरफ सरकार कहती है हम किसानों की आय दुगना करेंगे पर कहने और करने में अंतर होता है, अपने सुझाव देते हुए बता रहे है हम को आज ग्रामीण अनाज और बीज गोदाम बनाना चाहिएं जिससे सभी किसानों का माल एकत्रित करना चाहिए जिससे फायदा यह होगा कि किसान अपनी ज़रुरत के अनुसार जब दाम अधिक हो तब माल बेच पायेगा तभी समर्थन मूल्य किसानों को मिलेगा.

Posted on: Apr 23, 2018. Tags: DHARMENDRA KUMAR DHURVE