चलतो गुइया रा कोयल भूमकाल ते...गोंडी गीत-

ग्राम-केकराखोली, जिला-धमतरी छत्तीसगढ़ से कीर्ति साहू के साथ गाँव के साथी सोनू कुमार, विनोद मरकाम, अजय मरकाम एक गोंडी गीत सुना रहे है :
चलतो गुइया रा कोयल भूमकाल ते-
कोया पलोरा कोया पलोरा-
निमा बातल पुन्दारा-
वायरो बातल पुन्दारा-
चलतो गुइया रा कोयल भूमकाल ते...

Posted on: Jul 19, 2020. Tags: DHAMTARI CG GONDI SONG SONU KUMAR VINOD MARKAM

धोखेबाज से दोस्ती नहीं करनी चाहिये और उसे मौका कभी नहीं देना चाहिये...कहानी-

हिरण और सियार दोनों मित्र थे, एक बार दोनों को प्यास लगी, पानी की तलास करते करते करते उन्हें कुआ मिला, सियार बोला पहले मै पी लेता हूँ फिर तुम पी लेना, हिरण ने ऐसा ही किया, सियार पानी पिया, उसके बाद हिरण पानी पीने लगा तभी सियार ने उसे कुआ में धकेल दिया, हिरन पानी में डूबकर मर गया लेकिन सियार उसे नहीं निकाल सकता था, उसने पास के किसानो से कहा मेरा दोस्त पानी में गिर गया है उसे निकाल दो, किसानो ने उसे निकाल दिया और ले गये, सियार बोला मुझे भी इसका मांस दे दो, किसान बोले हमने निकाला तुम्हे नहीं मिलेगा, तब सियार ने वहां से आग लगा एक लकड़ी लेकर खेत में फेक दिया, जब खेत में आग लग गयी और किसान फसल को बचाने लगे, तब सियार ने हिरण का मांस खाया| (AR)

Posted on: Jul 19, 2020. Tags: AKSHAY KUMAR NETAM CG DHAMTARI STORY

जोहर जोहर बुढा देव...गोटुल गोंडी गीत-

ग्राम-परसापानी, विकासखण्ड-नगरी, जिला-धमतरी (छत्तीसगढ़) से धनसिंह गोटा गोंडी सामुदाय का एक पारंपरिक गीत सुना रहे हैं:
ओ हो, ओ हो, ओ हो, ओ हो-
अ, अ , अ, अ-
लला लला, लला लला, लला-
हाय रेला, रेला, रेला-
रे रे लोयो रे रेला-रे रेला रे रे लोयो रे रेला... (AR)

Posted on: Jun 22, 2020. Tags: CG DHAMTARI DHANSINGH GOTA GONDI SONG

देवी गीत : कोन ला सोहे अजरा-गजरा, कोन सोहे हार...

ग्राम-केकराखोली, ब्लाक-मगर लोड, जिला-धमतरी (छत्तीसगढ़) से कीर्ति साहू और उनके साथ है पुष्पा मरकाम साथी तिकेश्वरी मरकामदेवी गीत सुना रहा है:
कोन ला सोहे अजरा-गजरा, कोन सोहे हार-
कोन सोहे माथ माँ कुटिया, सोला हो सिंगार-
महामाई ला सोहे अजरा-गजरा, ऋषि होहे हार,
बूढी माई ला सोहे माथ माँ कुतिया, सोला हो सिंगार-
माई बर फुल गजरा, माई बर फुल गजरा-
गुथव हो मलिन के फुल जगरा, सोला हो सिंगार-
काहे फुल के अजरा-गजरा, काहे फुल के हार-
कान्हेर फुल के अजरा-गजरा, चमेली फुल के हार-
कान्हेर फुल के माथ में कुटिया सोला हो सिंगार-
माई बर फुल गजरा, माई बर फुल गजरा-
गुथव हो मलिन के फुल गजरा...

Posted on: Nov 18, 2019. Tags: DHAMTARI CG KEERTI SAHU SONG

रेला गीत : साय रे रे ला दवना पान, नैना गढ़ी-गढ़ी जाय...

ग्राम-केकराखोली, जिला-धमतरी (छत्तीसगढ़) से कीर्ति साहू और उनके साथ है राजेश कुमार रेला गीत सुना रहा है:
साय रे रे ला दवना पान, नैना गढ़ी-गढ़ी जाय-
हाय रे हाय दवना पान, नैना गढ़ी-गढ़ी जाय-
फुल कस चेहरा मुस्कान भरे होठ मा-
हाय रे हाय दवना पान, नैना गढ़ी-गढ़ी जाय-
हमर पारा आबें-जाबों करमा-ददरिया-
ताल में ताल मिल जाए-
तक धि न धिन मांदर बाजे, झुमरे हे मान्दरिहा-
चंदा-चांदिनी लजाएँ-
साय रे रे ला दवना पान, नैना गढ़ी-गढ़ी जाय...

Posted on: Nov 16, 2019. Tags: DHAMTARI CG KEERTI SAHU

View Older Reports »