पढ़ा देना दाई मोला, पढ़ा देना हो, तोरे हाथ जोड़त हूँ गा, तोरे पाँव पडत हूँ ना...साक्षरता गीत

ग्राम-लांजीत, तहसील-ओड़गी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से देव प्रसाद सिंह आयाम एक साक्षरता गीत सुना रहे है:
पढ़ा देना दाई मोला, पढ़ा देना हो-
तोरे हाथ जोड़त हूँ गा, तोरे पाँव पडत हूँ ना-
छेरी नई चराऊ, गरु नई चराऊ-
पढ़ा देना दाई मोला, पढ़ा देना हो-
लिखे और पढ़े बर, स्कूल जाऊ-
तोरे हाथ जोड़त हूँ गा, तोरे पाँव पडत हूँ ना...

Posted on: May 05, 2018. Tags: DEV PARSAD AYAM