We adivasis live in forest but not getting land rights as per Forest Rights Act...

Charan Parte is calling from first National Conference of Akhil Bharatiya Jungal Andolan in Raipur, Chhattisgarh and talking to Balram Sodhi Who tells him that Adivasis have been living in forest for a long time but many don’t get land deeds and Govt exploits their vulnerability. Forest rights, mining and livelihood issues were discussed in this two day conference where lot of organizations are presenting their ideas and are planning to take their fight forward by coming together. Charan Parte@9425164177.

Posted on: Mar 22, 2015. Tags: CHARAN SINGH PARTE FOREST LAND

Our school building work started 15 years ago, not completed yet, please help...

Charan Parte is calling from Mohgaon village of Sarasdoli panchayat, Mawai block, Mandla district in MP and talking to villagers who tell him that construction of their school building began in 2001-02 but is still incomplete. Children don’t go to school because old school building which was built in 1977 is broken and can fall any time. Villagers have appealed at Collector, CEO and BEO but no progress. You are requested to call Collector@9425164003 to help suffering adivasi children. Charan Parte@9425164177.

Posted on: Mar 16, 2015. Tags: CHARAN SINGH PARTE EDUCATION

पैसा है सजीवन देव, रे पैसा की कला है कलजुग में...फाग गीत

ग्राम-नैगवां, विकासखंड- मवईं, जिला- मंडला, मध्यप्रदेश से चरण सिंह परते एक फाग गीत प्रस्तुत कर रहे हैं :
ए हां रे हां पैसा की कला है कलजुग में-
पैसा है सजीवन देव, रे पैसा की कला है कलजुग में-
पैसा है सजीवन देव देवन से भारी-
पैसा से सब राज-काज है हिम्मत भारी-
पैसा को ऐसे रचो दुनिया में करतार-
पैसा उ दोस्ती फिर करा दे तकरार-
फिर करा दे तकरार होली हो फिर करा दे तकरार-
फिर करा दे तकरार रे, पैसा की कला है कलजुग में-
अरे करा दे तकरार होली हो फिर करा दे तकरार-
मान पैसा से पावे, पैसा तोली मरग-सरग से नरक पठावे – पैसा होवे तो पास में तो पूछ ले सब संसार-
बिन पैसा को फिर जगत में खड़े न होवे द्वार-
फिर खड़े न होवे द्वार रे पैसा की कला है कलजुग में-
होली हो-
खड़े न होवे द्वार कर्ज पैसा से होवे-
कर्ज से होवे खराब अरे मिल्कियत पैसा खोवे-
दानन के कर देते हैं पैसा तो सीरदार-
मूड़ कटावे मुफ्त में फिर लड़ा दए परवार-
फिर फिर लड़ा दए रे परिवार पैसा की कला है कलजुग में-
फिर लडा दै तरवार रे पैसा की कला है कलजुग में...

Posted on: Mar 12, 2015. Tags: Charan Singh Parte

Teachers come rarely, Mid-Day meal cook not getting wages from 3 years...

Charan Parte is visiting Sakhiya forest viilage under Pakhwar panchayat in Mawai block of Mandla district in MP and talking to Prem Singh Pandre who tells him that teachers do not come to school regularly and are also alcoholic so children are suffering. Helper, who is cooking midday-meal is not getting her honorarium. She has got only Rs 3000 in 3 years. This was complained to officials but no action has been taken. Pls call Collector@9425164003. Pandre@8305929056

Posted on: Mar 01, 2015. Tags: CHARAN SINGH PARTE MID-DAY MEAL

दुर्गावती महरानी, दुर्गावती महरानी, मंडला में शासन चलाई...राही फाग गीत

चरण परते, ग्राम-नवगंवां रैयत, विकासखंड-मवईं, जिला-मंडला, मध्यप्रदेश से राही फाग गीत प्रस्तुत कर रहे हैं. गीत में रानी दुर्गावती को याद किया जा रहा है:
दुर्गावती महरानी, दुर्गावती महरानी-
मंडला में शासन चलाई-
चन्देल वंश की बेटी कहाई-
दलपत शाह से शादी कराई-
प्रजा की है अधार, प्रजा की वो अधार-
मंडला में शासन चलाई...
पहले के राजा सिक्का चलावे-
नीति-धर्म सबको वो सिखावे-
प्रजा रहे खुशहाल-
मंडला में शासन चलाई...
किला-महल बने हैं पुराने-
मदन-महल जो सन्मुख ठाड़े-
दिए इनको भुलाय, दिए इनको भुलाय-
मंडला में शासन चलाई...
नाम नगर पहचान हमारे-
जिसका वर्णन कोई न जाने-
जिसकी करते हैं याद, हम करते हैं याद-
मंडला में शासन चलाई...
गढ़ मंडला नाम नगर में-
रहा वेदनी शक्ति सक्षम-
सेवा में हैं आगे आज, सेवा में है आगे आज-
मंडला में शासन चलाई...

Posted on: Feb 28, 2015. Tags: Charan Singh Parte

« View Newer Reports

View Older Reports »