स्वास्थ्य स्वर: साइटिका के घरेलू नुस्ख़े...

ग्राम-रहंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेरी, (छत्तीसगढ़) से चन्द्रकान्त शर्मा आज साइटिका के घरेलू नुस्ख़े बता रहे है, एक गिलास दूध और एक कप पानी को किसी बर्तन में डाल दे, लहसुन की कलिया 8-10 छिलकर डाल दे, और इतना उबाले की आधा रह जाये| उसे उतार कर ठंडा होने पर सेवन करे. लहसुन की कली को चबा चबा कर खा ले.
यह प्रयोग लगातार 20 दिनों तक करे| साइटिका में लाभ मिलेगा.
चन्द्रकान्त शर्मा@ 9893327457.

Posted on: May 03, 2018. Tags: CHANDRKANT SHRAMA SONG VICTIMS REGISTER

स्वास्थ्य स्वर: नारियल की जटा, छिल्के से बवासीर का घरेलू उपचार...

ग्राम-रेहंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चन्द्र कान्त शर्मा आज बवासीर का एक घरेलू उपचार बता रहे है: सामग्री-सूखा नारियल की जटा, छिल्का जलाकर उसकी राख़ को छानकर बराबर मात्रा में उसमें शक्कर (चीनी) मिला लेंवे. एक तौला पानी के साथ प्रतिदिन सुबह खा लेंवे|बावासीर वाली जगह में दिन में 3-4 बार वही राख़ लगावे, इस प्रकार सतत 21 दिनों तक इसका प्रयोग करे खाये भी और लगाए| लाभ होगा. ऐसे ही हमारे आसपास पाए जाने वाले विभिन्न वनस्पतियों में अनेक औषधीय गुण है जिनके बारे में जानकारी होने से हमें काफी पैसे की बचत भी हो सकती है. वैद्य चन्द्र कान्त शर्मा@9893327457.

Posted on: Apr 30, 2018. Tags: CHANDRKANT SHRAMA SONG VICTIMS REGISTER

स्वास्थ्य स्वर: लहसुन एवं तिल के तेल से लकवे का घरेलू उपचार...

ग्राम-लेहन्गी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेली (छत्तीसगढ़) से वैद्य चन्द्रकान्त शर्मा लकवा के घरेलू उपचार के बारे में बता रहे है: लकवे का अटेक आते ही तुरंत तिल का तेल 50 से 100 ग्राम हल्का गर्म करके पीना चाहिए एवं 4-5 कली लहसुन तत्काल खाना चाहिए. दूसरा प्रयोग लकवा ग्रस्त अंग एवं सिर पर सेक करना चाहिए| लहसुन की कली प्रतिदिन खानी चाहिए रोजाना एक कली बढाएं ऐसा प्रयोग 21 दिनों तक लगातार करे. 21 दिनों के बाद प्रतिदिन एक कली कम करते हुए सेवन करे. हरे लहसुन की पत्तियों से उसका रस निकालकर पानी में मिलाकर पीने से भी फायदा होता है. वैद्य चन्द्रकान्त शर्मा@9893327457.

Posted on: Apr 28, 2018. Tags: CHANDRKANT SHRAMA SONG VICTIMS REGISTER

स्वास्थ्य स्वर: पथरी नाशक घरेलू उपचार...

ग्राम-रेहंगी, पोस्ट-लोरमी, जिला-मुंगेरी, (छत्तीसगढ़) से वैद्य चन्द्रकान्त शर्मा आज हमें पथरी रोग नाशक घरेलू उपचार के बारे में जानकारी दे रहे है: सामग्री-पत्थर चट्टा के बड़े 2 पत्ते का लगभग एक से डेढ़ चम्मच सुबह के समय रस निकाले उसमें चुटकी भर सेंधा नमक डाले और सुबह उसका सेवन करना है. वे कह रहे हैं कि इस विधि से मैंने बड़ी बड़ी पथरी की समस्या को ठीक होते देखा है| पित्त की समस्या को भी ठीक होते देखा है इसी विधि उपाय से| उपचार के समय तेल मिर्च मशाला, खटाई से परहेज करे. इस तरह हमारे आसपास पाए जाने वाली कई वनस्पतियों में जबरदस्त ताकत होती है इनसे हम कई ओपरेशन से बच सकते हैं | शर्मा@9893327457

Posted on: Apr 26, 2018. Tags: CHANDRKANT SHRAMA SONG VICTIMS REGISTER

स्वास्थ्य स्वर: पेट के रोग के नुस्खे...

ग्राम-रहंगी, तहसील-लोरमी, जिला-मुंगेरी (छत्तीसगढ़) से वैद्य चन्द्रकान्त शर्मा आज हम सभी को पेट से सम्बंधित रोगों को एवं कब्ज दूर करने का अत्यंत लाभकारी नुस्खा बता रहे है जिसे हम अपने आसपास पाए जाने वाले वनस्पतियों से स्वयं ही घर में बना सकते हैं . छोटी हरड़, पिपली, काला नमक, निसोथ, सोठ सबको 100-100 ग्राम मिलाकर कूटकर महीन बना कर सुरक्षित कांच की शीशी में भरकर रख दे. रात को सोते समय एक-एक चम्मच बनाया हुआ चूर्ण कुनकुने पानी के साथ ले. इससे पेट भी साफ़ रहेगा तथा पेट के रोग कब्ज जैसे रोग से भी राहत मिलेगी. वैद्य चन्द्रकान्त शर्मा@9893327457

Posted on: Apr 14, 2018. Tags: CHANDRKANT SHRAMA SONG VICTIMS REGISTER