5.6.31 Welcome to CGNet Swara

है सबसे उत्तम गुरु की पूजा, है सबसे पावन गुरु की पूजा...

ग्राम-दुर्गापुर, जिला-झांसी, उत्तरप्रदेश से बंटी कुमार गुरु पूर्णिमा के अवसर पर एक गीत प्रस्तुत कर रहे हैं :
है सबसे उत्तम गुरु की पूजा, है सबसे पावन गुरु की पूजा-
गुरु की पूजा है सुखदायी, गुरु की पूजा है रंग लाई-
गुरु है राजी तो रब है राजी ,गुरु बिना ना कोई दूजा – है सबसे उत्तम गुरु की पूजा, है सबसे पावन गुरु की पूजा-
गुरु ब्रह्मा गुरु महेश्वर, निराकार है गुरु ही ईश्वर-
गुरु ही जल में, गुरु ही थल में, गुरु ही सारे जहाँ मे ऊँचा – हे सबसे उत्तम गुरु की पूजा, हे सबसे पावन गुरु की पूजा...

Posted on: Aug 02, 2015. Tags: Banti Kumar

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download