5.6.31 Welcome to CGNet Swara

हमारे गाँव में रोड की समस्या, हफ्ते में सिर्फ बाज़ार वाले दिन ही दिन कहीं जाने को वाहन मिलता है...

ग्राम-केशापुर, जिला-दन्तेवाडा (छत्तीसगढ़) से गाँव के साथी बता रहे है कि उनके गाँव केशापुर में सबसे बड़ी समस्या रोड की है | केशापुर से दंतेवाडा 12 किलोमीटर है जो कि आने जाने में बहुत परेशानी होती है और आवागमन के साधन भी नहीं है अम्बुलेंश भी नहीं आ पाती है और गर्भवती महिलाओ को बहुत परेशानी उठानी पड़ती है | इस रोड से कम से कम 5000 जनसँख्या का आना जाना रहता है इसके लिए इन्होने ग्राम पंचायत में कई बार आवेदन भी दिए लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हो रही है इसलिए साथी सीजीनेट सुनने वाले साथियों से मदद की अपील कर रहे है कि इन नम्बरों में फ़ोन कर दबाव ताकि इनके गाँव में रोड की सुविधा हो सके| सरपंच@7587001025, सचिव@7587875406.

Posted on: Oct 19, 2017. Tags: BABULAL SINGH NETI DANTEWADA

संतरंगी झंडा गढ़ लात मा,पढ़ेले संगी जय सेवा पाठ ला...गोंडवाना गीत-

बाबूलाल सिंह नेटी ग्राम- ताराडांड, जमुड़ी ब्लॉक-जैतहरी जिला-अनूपपुर मध्यप्रदेश से एक गोंडवाना गीत सुना रहे हैं :
संतरंगी झंडा गढ़ लात मा,पढ़ेले संगी जय सेवा पाठ ला – आज संगा रे रे सात सौ पच्चास ला माना बो, आरे आज कोया-
रे सात सौ पच्चास ला मना बो-
बड़ा देव शक्ति माना बो, बड़ा देव शक्ति मनाबो...

Posted on: Feb 09, 2017. Tags: BABULAL SINGH NETI

चलो-चलो-चलो रे कनेरीगढ़ धाम जहाँ पर मेला लगों...मेला राई गीत

ग्राम-ताराडांड, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से बाबूलाल सिंह नेटी एक मेला राई गीत सुना रहे हैं:
चलो-चलो चलो रे कनेरीगढ़ धाम जहाँ पर मेला लगों-
चलो-चलो चलो रे कनेरीगढ़ धाम मेला लगों मेला लगों-
चलो-चलो चलो रे कनेरीगढ़ धाम जहाँ पर मेला लगों...

Posted on: Feb 09, 2017. Tags: BABULAL SINGH NETI

राई गायो ना जाए, राई गायो ना जाए...राई गीत

ग्राम-ताराडांड, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से बाबूलाल सिंह एक राई गीत सुना रहे हैं:
राइ गायो ना जाए, राई गायो ना जाए-
राइ गायों ना जाए, राई गायों ना जाए-
मारे शर्म के मारे आरा रा रा हो-
ढोलकी मांग ले ढोलकी मांग ले-
टिमकी में बैठे माँ शारदा-

Posted on: Feb 02, 2017. Tags: BABULAL SINGH NETI

तोर रचे रामायण तुलसी बड़ा जोर हो गए रे...धार्मिक गीत

ग्राम-ताराडांड, तहसील-जैतहरी, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से बाबूलाल सिंह नेटी एक धार्मिक गीत सुना रहे हैं:
गाँव शहर और गली शोर म शोर हो गए रे-
तोर रचे रामायण तुलसी बड़ा जोर हो गए रे-
हिंदी के मान स्वर लिखे है तुलसी ज्ञानी-
गाँव-गाँव में बिकराये गा के राम कहानी-
भव-सागर भर जाये भर ये शोर हो गए रे...

Posted on: Jan 25, 2017. Tags: Babulal Singh Neti

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »