वो आए तेरे भवन रे अपनी शरण, रहे तुझमे मगन थाम कर ये शरण...भक्ति गीत

ग्राम-देवरी, पोस्ट-चंदोरा, ब्लॉक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से बुलमनिया
पोर्ते एक भक्ति गीत सुना रही है:
वो आये तेरे भवन रे अपनी शरण, रहे तुझमे मगन थाम कर ये शरण-
तन मन में भक्ति ज्योत तेरी, ओं माता जलती रही-
उत्सव मनावों नाचो गावो, चलो मय्या के घर जांए-
चारों दिशाओं चार खम्बे बने है, मण्डप में आत्मा की चादर तनी है-
सूरज भी किरणों का माला ले आया, कुदरत भी धरती का आँगन सजाया-
तन मन में भक्ति ज्योत तेरी, ओं माता जलती रही...

Posted on: Apr 15, 2018. Tags: BULMANIYA PORTE