जंगल विभाग वाले अधिकारी हम आदिवासियों को मार रहे हैं हमारे घर जला रहे हैं कृपया मदद करें...

ग्राम गोरेनाला, पोस्ट दुगली, तहसील-नगरी, जिला-धमतरी (छत्तीसगढ़) से भूषण लाल नागेश बता रहे हैं कि उनके क्षेत्र में 1947 के पहले से सुखराम नागे के नेतृत्व में जंगल की ज़मीन का आंदोलन चल रहा है जिसका हल अब तक नहीं निकला है पिछले कुछ हफ़्तों में भी वन विभाग के लोगों ने इन गाँवों में आकर घर जलाए हैं और हम आदिवासियों के साथ मारपीट की है और हमें गाँव छोड़कर जाने का आदेश दिया है जबकि वन विभाग के कुछ अधिकारी वन अधिकार की तहत ज़मीन का पट्टा देने की बात भी करते करते हैं जब हम उनसे मिलने जाते हैं. आप सभी साथियों से अनुरोध है कि कृपया DFO@07722236137, फारेस्ट विभाग अधिकारी @7587011351 को फोन कर दबाव बनाएं। भूषण लाल नागेश@9406003176

Posted on: Apr 10, 2017. Tags: BHUSHANLAL NAGESH

छत्तीसगढ़ के धमतरी के नगरी इलाके में चल रहे आदिवासी वन जमीन अधिकार आंदोलन से रिपोर्ट...

छत्तीसगढ के धमतरी जिला के नगरी क्षेत्र में चल रहे वन अधिकार आन्दोलन से भूषण लाल नाग बता रहे हैं कि लोकतांत्रिक समाजवादी पार्टी के नेतृत्व में हुए आंदोलन के बाद 1987 में शासन से १८ बसाए आदिवासी गाँव को मान्यता देने का समझौता किया गया था पर सिर्फ १३ को ही अब तक मान्यता दिया गया है । बाकी गाँवों को को मान्यता देने के लिए पार्टी द्वारा धरना प्रदर्शन किया जा रहा है पर प्रशासन से कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है और मीडिया से भी कोई मदद नहीं मिल रही है । इसलिए वे सीजीनेट स्वर में रिकार्ड कर रहे हैं । उनका कहना है कि यह संविधान की ५ वीं अनुसूची का इलाका है और वन अधिकार क़ानून के तहत आदिवासियों को ज़मीन का पट्टा ऐसे भी मिल जाना चाहिए पर ऐसा नहीं हुआ है। भूषण@9669683673

Posted on: Dec 15, 2016. Tags: BHUSHAN LAL NAG