छत्तीसगढ़ के धरती में लाल हरा का झन्डा लहराया था...नियोगी शहीद दिवस पर कविता

जिला-रायपुर (छत्तीसगढ़) से भागीरथ वर्मा शंकर गुहा नियोगी के शहीद दिवस के उपलक्ष में एक कविता सुना रहे हैं:
छत्तीसगढ़ के धरती में लाल हरा का झन्डा लहराया था-
मजदुर किसानो के लिए वीर नियोगी था-
जिसने अपना खून बहाया था-
सोये हुए मजदुर किसानो को उस वीर ने जगाया था-
बेईमानो को ललकारा था खाली हाथ आया है-
अब तू खाली हाथ ही जाएगा-
छत्तीसगढ़ के धरती में लाल हरा का...

Posted on: Sep 28, 2016. Tags: BHAGIRATH VERMA

जिस देश में समानता क़ानून है...एक कविता

जिस देश में समानता क़ानून है,
उस देश में अमीरी-गरीबी है
क्यों मेहनत करने वाले गरीब होते
जो मेहनत नही करते वो अमीर है।
क्या इसी को आजादी कहते है,क्या यही आजादी है
जो बारह घंटे मेहनत करते,
वो भूखे पेट रात में सोते।
जो खेतों में अन्न उगाते ,
उसका बेटा रोटी-रोटी चिल्लाते।
क्या इसी को आजादी कहते है,क्या यही आजादी है।
जो मारुति जहाज बनाते
वो सपने में हवा में उड़ते,
जो एक दिन मेहनत नही करते ,
वो मारुति जहाज में घूमते ,
क्या इसी को आजादी कहते है,क्या यही आजादी है।
उठो नौजवानो,छात्र,बेरोजगारो,मजदूर,किसानो
हाथो में मशाल उठाओ
घर-घर जाकर सुस्त को जगाओ ,
बेईमानो की सत्ता परिवर्तन करने इंकलाब लाना है
इंकलाब लाना है, इंकलाब लाना है...

Posted on: May 11, 2014. Tags: Bhagirath Verma

Republic Day in crematorium with people waiting for Govt to fulfil promises...

Bhagirath Verma is participating in Republic day celebration in Devpuri crematorium in Raipur Chhattisgarh. He says crematorium is normally home to dead but here 26 families are living here from last 4 years. There houses were broken by Govt to beautify the city and with promise of giving them a new house. This probably tells about the state of our republic. You are requested to call Collector at 9425254525 to help these families. VermaJi@9179984949

Posted on: Jan 26, 2014. Tags: Bhagirath Verma

उस दिन भारत के सभी लोग आजाद कहलायेंगे...

जिस दिन हमारे देश के छात्र नौजवान
महिला मजदूर किसान जाग जायेंगे
हम अकेले क्या नहीं कर सकते
मन में हौसला बनाएंगे
६ घंटे काम का शिफ्ट लगवाकर
देश से बेरोजगारी ख़त्म कर डालेंगे
लोगों में ऐसा विचार का बीज बोएंगे
मजदूर से राष्ट्रपति तक बराबर बेतन लेने तैयार हो जायंगे
उस दिन भारत के सभी लोग आजाद कहलायेंगे

Posted on: Dec 27, 2013. Tags: Bhagirath Verma

नेताजी कहते आप सब को नया साल का बड़ा बड़ा बधाई...व्यंग्य

नेताजी कहते आप सब को नया साल का बड़ा बड़ा बधाई
देश में लाएगे मंहगाई, जनता को नमक भात खिलाएगी ।
सब्जी के बिना तरसाएगी, मंजदूर किसानो को दरुहा बनाएगी
शराबबंदीकरण की राजनीति करवाएगी
गाँव गाँव कोचिया के माध्यम से शराब बेचवाएगी ।
चुनाव आने पर शराब बंदी का घोषणा भूल जाएगी
जनता आपस में बतियाएगी किसको सत्ता में लाऊं
जो नमक भात के उपर आलू का चोखा चटनी भी खिलाएगी ।
बेटियाँ कहती चावल वाले बाबा और नमक वाली दादी है तो माई
बाबा और दादी हो गए मदारी
मंहगाई की नंगा नाच नचाकर नमक भात खाने मजबूर कर रही
और सब्जी के बिना जी चुटुर पुटुर कर रही
बेटवा कहता क्या है माई जनता को मंहगाई से बचाने
क्या आ गया जनता को युग परिवर्त्तन करने का बारी
हाँ बेटा हमारे देश के नेताओ में हो गया घूसखोरी का बीमारी
इसका इलाज करने बढ़ा दिया महंगाई
चिन्ता मत करो माई मैं तुम्हारा बिना पानी मिला दूध पीया हूँ
इसका करूंगा भरपाई एक एक बूँद पसीना गिरते तक लडूंगा
और ख़त्म कर देगे भष्टाचारी सरकार का महँगाई

Posted on: Nov 30, 2013. Tags: Bhagirath Verma

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download