स्वास्थ्य स्वर : सिर दर्द का घरेलू उपचार-

ग्राम-घोंघा, थाना-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य भगतराम लांझी आज सिर दर्द का एक घरेलू उपचार बता रहे हैं, जिनको सिर दर्द होता है वे अदरक 3 अंगुल, पिपरा 3 नग, 2 नग काली मिर्च, 2 लौंग, सोंठ 3 अंगुल सभी को पीसकर चूर्ण बना लें और गुड़ मिलाकर आधा चम्मच दिन में 3 बार सेवन करें, बच्चो को थोडा-थोडा चटाना है, इससे सिर दर्द में आराम मिल सकता है, अधिक जानकारी के लिए इस नंबर पर संपर्क कर सकते हैं : भगतराम लांझी@7389964276.

Posted on: Sep 17, 2018. Tags: BHAGATRAM LANJHI BODLA CG HEADACHE KABIRDHAM SWASTHYA SWARA

स्वास्थ्य स्वर: आँख की समस्याओं का घरेलू उपचार

ग्राम-घोंघा, थाना-बोड्ला, तहसील-बोड्ला, जिला कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य भगत राम लांझी आज हम सभी को आँख की सामान्य समस्याओं का घरेलू उपचार बता रहे हैं:
आँख में खुजली होना, आँख जलन करना, आँखों से आंसू आता है तो उसके लिए धनिया, बड़ा वाला(देशी धनिया) खड़े धनिया को मिटटी के बर्तन में कम से कम 10-20 मिनट तक उबाल लें और 3 बार से छान ले उसी पानी से आँख को दिन में 2 बार छीटा मारकर धोना हैं इससे आँख में खुजली होना, आँख जलन करना, आँखों से आंसू आना ठीक हो जाता हैं | सम्पर्क नम्बर @7389964276

Posted on: Sep 06, 2018. Tags: BHAGATRAM LANJHI BODLA CG HEALTH KABIRDHAM SWASTHYA SWARA

स्वास्थ्य स्वर: हिचकी ठीक करने का घरेलू उपचार...

ग्राम-घोंघा, थाना-बोड्ला, तहसील-बोड्ला, जिला कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य भगत राम लांझी हिचकी को ठीक करने का एक घरेलू उपचार बता रहे हैं. वे कह रहे हैं कि हिचकी आने पर परसा (पलाश) के पत्ते को चिलम (बीडी) जैसा बनाकर उसमे राहर (अरहर) के पत्तों को तम्बाखू के जगह भरकर पीने से हिचकी से आराम मिलता है, यदि अरहर के पत्ते उपलब्ध नहीं है तो इसके स्थान पर चने के पत्ते को भी इसी तरह उपयोग किया जा सकता है | ये औषधि हमारे वातावरण के आस-पास ही उपलब्ध हो जाती है यह उपचार बिना कोई खर्चा किये घर में ही किया जा सकता है |अधिक जानकारी के लिए संपर्क नम्बर@7389964276.

Posted on: Aug 29, 2018. Tags: BHAGATRAM LANJHI CG HEALTH KABIRDHAM SWASTHYA SWARA

वनांचल स्वर : आँख की कुछ सामान्य समस्याओं का घरेलु उपचार

ग्राम-बोंगा, थाना-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य भगतराम लांझी आँखों की कुछ सामान्य समस्याओं का घरेलू उपचार बता रहे हैं जिसे आप आपके आस पास पाए जाने वाले वनस्पतियों की मदद से ठीक कर सकते हैं. वे बता रहे हैं कि जिन व्यक्तियों के आंख में जाली हो गया है, कम दिखता है, जलन होता है, गड़ता है, तो चंदन और निरमली को घिस कर शहद के सांथ मिलाकर उसे आंख में काजल की तरह लगाएं, इससे 1 मिनट तक आंख से पानी निकलेगा, थोडा गड़ेगा, इससे आँख की तखलीफ में आराम मिल सकता है, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर में संपर्क कर सकते हैं| वैद्य भगतराम लांझी@7389964276.

Posted on: May 11, 2018. Tags: BHAGATRAM LANJHI VANANCHAL SWARA

« View Newer Reports