5.6.31 Welcome to CGNet Swara

रोपा के तो रोपालो सिकी सारी दाना...सादरी गीत

आश्रित ग्राम-किरतोटोली, ग्राम पंचायत-बेन्दोरा, प्रखंड-चैनपुर, जिला-गुमला (झारखंड) से सुभाष भगत एक सादरी भाषा में गीत सुना रहे है:
रोपा के तो रोपालो सिकी सारी दाना-
असो कर बरीखा बड़ा बगा गादी-
ताय तो राजा बउराले ये-
सावन बान्दो सिकरो खले-
ताय तो राजा बउराले ये-
रोपा के तो रोपलो सिकी सारी दाना...

Posted on: Jul 11, 2018. Tags: SONG SUBHASH BHAGAT

मुरा लगी, मुरा लगी, ऐ बांदर कोडा मुरा लगी...कुडुक भाषा में वर्षा गीत

किरतो टोला, पंचायत-बेंदोरा, तहसील-चैनपुर, जिला-गुमला (झारखण्ड) से सुभाष भगत, अंजना भगत और मीना तिर्की ओरांव आदिवासियों की कुडुक भाषा में एक गीत सुना रहे है, जो वर्षा के आगमन पर गाया जाता है:
मुरा लगी, मुरा लगी-
ऐ बांदर कोडा मुरा लगी-
एवन कोडन कारा प्रेमने दारा-
मडी बा रीरी कोक्टा लगी-
कोडन कारा प्रेमने दारा...

Posted on: Jul 08, 2018. Tags: ANJNA BHAGAT SUBASH BHAGAT URAO SONG

स्वास्थ्य स्वर : ठण्ड लेकर आने वाले बुखार का घरेलू उपचार

ग्राम-घोंघा, थाना-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य भगतराम लांजी आज हम लोगो को ठण्ड लेकर आने वाले बुखार आने पर उसका घरेलू उपचार बता रहे हैं . वे बता रहे हैं कि तुलसी के पत्ता, पुदीना के पत्ता और अदरक तीनो को आधा-आधा तोला मिलाकर काढ़ा बनाकर पीना है. अगर बच्चे है तो आधा चम्मच और जवान है व्यक्ति है तो एक चम्मच दिन में 2-3 बार पिलाना है | उससे जल्दी आराम मिल जाता है| अधिक जानकारी के लिए भगतराम लांजी@7389964276.

Posted on: Jun 25, 2018. Tags: BHAGATRAM LANJI

स्वास्थ्य स्वर : आँख की कुछ सामान्य समस्याओं का घरेलु उपचार

ग्राम-बोंगा, थाना-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य भगतराम लांझी आँखों की कुछ सामान्य समस्याओं का घरेलू उपचार बता रहे हैं जिसे आप आपके आस पास पाए जाने वाले वनस्पतियों की मदद से ठीक कर सकते हैं. वे बता रहे हैं कि जिन व्यक्तियों के आंख में जाली हो गया है, कम दिखता है, जलन होता है, गड़ता है, तो चंदन और निरमली को घिस कर शहद के सांथ मिलाकर उसे आंख में काजल की तरह लगाएं, इससे 1 मिनट तक आंख से पानी निकलेगा, थोडा गड़ेगा, इससे आँख की तखलीफ में आराम मिल सकता है, अधिक जानकारी के लिए दिए गए नंबर में संपर्क कर सकते हैं| वैद्य भगतराम लांझी@7389964276.

Posted on: May 11, 2018. Tags: BHAGATRAM LANJHI

स्वास्थ्य स्वर : स्वास की बीमारी का घरेलू उपचार-

ग्राम-घोंघा, पोस्ट-बोडला, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से वैद्य भगतराम लांझी आज हमें श्वास की बीमारी का घरेलू ईलाज बता रहे हैं, जिन लोग को स्वास लेने में दिक्कत होती है, खासी आती है, लार गिरते हैं वे जिमीकंद को धोकर काट कर सुखा ले, उसके बाद उसे कूट ले और सोठ, अदरक, काली मिर्च, लौंग, सभी को घी में भून ले और सभी को पुराने गुड के सांथ मिलाकर छोटी-छोटी गोली बना ले और सुबह-शाम एक-एक गोली सेवन करे इससे स्वास की बीमारी में आराम मिल सकता है, दवा उम्र के अनुसार छोटा या बड़ा लेना है अधिक जानकारी के लिए संपर्क कर सकते हैं: वैद्य भगतराम लांझी@7389964276.

Posted on: May 04, 2018. Tags: BHAGAT RAM LANJHI

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »