5.6.31 Welcome to CGNet Swara

बारिशो रे ऐ कारी बदरिया, बारिशो रे काबिल माकर...आषाढ़ गीत-

ग्राम-फुलवाटोली, प्रखण्ड-चैनपुर, जिला-गुमला (झारखण्ड) से ईसाख खलखो एक आषाढ़ गीत सुना रहे हैं ये गीत आषाढ़ के महीने में गया जाता है :
बारिशो रे ऐ कारी बदरिया, बारिशो रे काबिल माकर-
मनवा के ये लोर पानी काफय-
बारिशो रे काबिल माकर-
मुरा लगी मुरा लागे, भरल कोड़ा अरे मुरा लागी-
ऐ कुड़ील धरा टोगिन धारे-
बारिशो रे कारी बदरिया बारिशो रे कालीबिलम कारे...

Posted on: Nov 30, -0001. Tags: BASTIRAM NAGBANSHI ISAK KHALAKHO

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »