कोयनार बगइचा में रुदबुदू के ना साग कोयनार बगइचा में....सरगुजिया गीत

ग्राम-बरदर, जिला-बलरामपुर, छत्तीसगढ़ से बाबूलाल राम एक सरगुजिया गीत प्रस्तुत कर रहे हैं. गीत का सन्दर्भ यह है कि एक लड़की जो शहर से गाँव आयी है और गाँव के ही एक किसान के खेत में साग तोड़ने के लिए जाती है जहाँ किसान की बेटी से उसकी बहस होती है:
कोयनार बगइचा में रुदबुदू के ना साग कोयनार बगइचा में-
रुदबुदू के ना साग प्यार से तोड़ब जुरमान लागि जातौ-
चार से तोड़बे जुर्माना लागि जातौ-
जे होतौ देखल जातौ चाहे लगे जुर्माना-
जाबौ साग तोड़े रे हम जाबौ साग तोड़े...

Posted on: Apr 15, 2018. Tags: BABULAL RAM