लोक गीत : तै अगोर ले बे रे संगी, जायेके बेरा कुवां पार मा...

ग्राम-ताराढाड़, जिला-अनुपपुर (छत्तीसगढ़) से बाबूलाल नेटी छत्तीसगढ़ी लोक गीत सुना रहा है:
बटकी मा बाशी अउ चुटकी मा नून-
मैं गावत हव ददरिया तै कान दे के सुन-
तै अगोर ले बे रे संगी, जायेके बेरा कुवां पार मा-
आमा टोरे खाहुच कहिके, मोला दगा मा दारे-
आहुच कहिके कुवां पार-
तै अगोर ले बे रे संगी, जायेके बेरा कुवां पार मा-
एक पेड़ आमा छत्तीस पेड़ जाम-
मधुबन के चिरैया बोलथे राम-राम, कुवां पार मा-
तै अगोर ले बे रे संगी, जायेके बेरा कुवां पार मा-
धान ला लुये टूटेला कनकी,
भगवान के मंदिर मा बजा दे बन्सी, कुवां पार मा-
तै अगोर ले बे रे संगी, जायेके बेरा कुवां पार मा...

Posted on: Nov 16, 2019. Tags: ANUPPUR MP BABULAL NETI SONG VICTIMS REGISTER

गुरतुर है तोर बोली गा मोबाईल रेडियो...छत्तीसगढ़ी सीजीनेट गीत-

ग्राम-ताराडांड, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से बाबूलाल नेटी एक छत्तीसगढ़ी गीत सुना रहें हैं:
गुरतुर है तोर बोली गा मोबाईल रेडियो-
मन के मोर गोठ रथे नोनी बाबु सबो कैथ-
दलाल के पोल खुल गे गा मोबाईल रेडियो-
दादा हर दाई ला कइथे मेडन माँ बेठे बेठे-
सबो मोबाईल रेडियों आथे गा केसे केसे-
गुरतुर है तोर बोली गा मोबाईल रेडियो...

Posted on: Jun 22, 2018. Tags: BABULAL NETI ANUPPUR SONG VICTIMS REGISTER

वनांचल स्वर : पशुओ में खूनी दस्त का घरेलू उपचार

ग्राम-ताराडांड, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से बाबूलाल नेटी आज हम लोगो को मवेशियों में जब खून की दस्त हो तो उसका घरेलू उपचार बता रहे है, चार नीबू ले और उसको गाय के एक लीटर दूध में निचोड़ना है उसको निचोड़कर पिलाने से अगर आपकी गाय खून की दस्त कर रही हो तो तत्काल लाभ होगा आप इस प्रयोग को करके जरुर अपने बीमार पशु को स्वस्थ्य रख सकते है अगर हमारा पशु स्वस्थ्य रहेगा तो हमारी खेती बाड़ी में भी किसी प्रकार का व्यवधान नहीं आयेगा, इन सब तकलीफों के लिए किसान पैसे खर्च करते हैं पर अगर हमें इन घरेलू नुस्खों के बारे में पता हो तो धन की भी बचत होती है | बाबूलाल नेटी@7898022088.

Posted on: Jun 20, 2018. Tags: BABULAL NETI ANUPPUR HEALTH SONG VANANCHAL SWARA VICTIMS REGISTER