तरी हरी नानी मोरे नाना, नाना रे नाना...सुहा गीत -

ग्राम-बनौली, पंचायत-बांसकुण्ड, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से बबिता कुमारी एक सुहा गीत सुना रही है:
तरी हरी नानी मोरे नाना, नाना रे नाना-
सुहना के तरी हरी नाना रे न-
चंदा सूरज तोरे पहिया परौतना रे-
सुहना के तरीया जन्म जन देबे-
नारे सुहना के तिरिया जन्म जन देबे-
तरी हरी नानी मोरे नाना, नाना रे नाना...

Posted on: Jan 08, 2018. Tags: BABITA KUMARI