इजी सर्टिफिकेट के लिए कई बार आवेदन कर रहे हैं लेकिन कोई ध्यान नहीं दे रहे है...कृपया मदद करे-

ग्राम-गुट्टालक्ष्मीपुरम ,पंचायत-लक्ष्मीपुरम,ब्लॉक-भुर्गमपाड ,जिला-भद्रादी कोठगुडेम (तेलंगाना) से पायम श्रीनु बता रहे है की सन 1950 से इजी सर्टिफिकेट नहीं दे रहे हैं, उनका कहना है की पहिले 1950 से रह रहे है, लेकिन कोई इजी सर्टिफिकेट नहीं दे रहे हैं, इस समस्या के लिए कई बार अधिकारियों के पास आवेदन किये है लेकिन कोई सुनावाई नही हो रही है, इसलिये साथी सीजीनेट स्वर सुनने वाले साथियों से मदद की अपील कर रहे है कृपया दिये गये नंबरों पर बात कर समस्या को हल कराने में मदद करें: PO@@9490957735,संपर्क@7893778321.

Posted on: Dec 28, 2019. Tags: PAYAM PROBLEM SRINU TELANAGNA

गीत : रांची शहर घुमने मै आया रे, कितना सुंदर जोड़ी बनाया रे...

ग्राम-देवरी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से सुनैना एवं विजय एक गीत सुना रहे है|
रांची शहर घुमने मै आया रे, कितना सुंदर जोड़ी बनाया रे-
बजाई देना भैया, मांदल की रे, बजाई देन भैया बासुरी के रे-
रांची शहर घुमने मै आया रे, कितना सुंदर जोड़ी बनाया रे-
बजाई देना भैया, मांदल की रे, बजाई देन भैया बासुरी के रे-
रांची शहर घुमने मै आया रे, कितना सुंदर जोड़ी बनाया रे...

Posted on: Nov 21, 2019. Tags: JAYANTI AAYAM SURJPUR CG

देवी गीत : माँ स्वती लोति माईया, माँ स्वती लोति...

ग्राम-देवरी, पोस्ट-चदौरा, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जयंती आयाम और उनके साथ है नेहा भजन गीत सुना रही हैं:
माँ स्वती लोति माईया, माँ स्वती लोति-
माटी के दिया में बरात थे ज्योति-
चुनरी लहरा बों दाई ये-
स्वरा सर देवी धाम में-
माटी के दिया में बरात थे ज्योति-
स्वरा सर देवी धाम में...

Posted on: Nov 17, 2019. Tags: JAYANTI AYAM SONG SURAJPUR CG

आरती : तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी...

ग्राम-देवरी, पोस्ट-चन्दौरा , तह्सील-प्रतापपुर, विकासखण्ड- प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से जयंती आयम एक आरती गीत सुना रहीं हैं:
ओम जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी-
तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी-
ओम जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी-
तुमको निशदिन ध्यावत, हरि ब्रह्मा शिवरी...

Posted on: Nov 16, 2019. Tags: JAYANTI AAYAM SURAJPUR CG

काबर भूला रे आदिवासी मन, गोंडी धर्म इतिहास...गीत-

ग्राम-चंद्रेली, पोस्ट-मसदा, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से राजकुमार आयाम एक गोंडवाना गीत सुना रहे हैं :
काबर भूला रे आदिवासी मन, गोंडी धर्म इतिहास-
धर्म हवे पिता, भाषा हवे माँता, सुनके अमल कर ले-
माँता पिता कर सेवा ला भुलागे, धर्म ला छोड़े तोरे धन हा सिरागे-
काबर भूला रे आदिवासी मन, गोंडी धर्म इतिहास-
धर्म हवे पिता, भाषा हवे माँता, सुनके अमल कर ले...

Posted on: Nov 11, 2019. Tags: CG RAJKUMAR AYAM SONG SURAJPUR

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download