नववर्ष मंगलमय हो, नूतन वर्ष महान हो...

नववर्ष मंगलमय हो नूतन वर्ष महान हो
जीवन रूपी बगिया में सुरभि सद्ज्ञान हो
अलौकिक हर दिवस संध्या रात्रि
हर भोर हो जीवन में सुमधुर संबंधों की बंधी डोर हो
सतज्ञान रूपी सुरभि महक रही चहुँओर हो
अनुपम आनंद से हर जीवन सराबोर हो
खिले कल्याण में कुसुम जन जन का उत्थान हो
सत्य शांति सदाचार में सुन्दर उजियारा हो
बह रही प्रेम रूपी पीयूष रस धारा हो
खिल रहा पुण्य परोपकारमय पुष्प प्यारा हो
सुन्दर सत गुणो के सुगंध में जीवन सारा हो
हर पल उल्लासमयी मुख पर मधुर मुस्कान हो
बह रही बिश्व बंधुत्व रूपी अमृत रस धार हो
अहिंसा की अलौकिकता का सर्वत्र गुंजार हो
बहे सुख की सुरसरी सुखी सकल संसार हो
प्रभु कृपा करो अनुपम अवध स्वप्न साकार हो

Posted on: Dec 31, 2013. Tags: Awadh Sonbhadra