गरीबों के लिए बस चलाई उसके भी बढ़ गए दाम...एक संघर्ष गीत

अशोक पवार मुकाम पोष्ट सिझौरा जिला मण्डला मध्यप्रदेश से एक गीत सुना रहे हैं
गरीब हमारी जिंदगी हम मेहनतकश मजदूर
मेहनतकश मजदूर क्यूँ हम हैं इतने मजबूर
हाय रे सरकार हमारी वादे किए हजार
वादे किये हजार लगाई महँगाई की मार
अमीरों के लिए फिएट मारुती ऐश और आराम
गरीबों के लिए बस चलाई उसके भी बढ़ गए दाम

Posted on: Jan 13, 2014. Tags: Ashok Pawar