इसलिए राह संघर्ष की हम चुनें, जिंदगी आंसुओं से नहाई ना हो...

अनीमा बनर्जी, छत्तीसगढ़ से एक संघर्ष गीत प्रस्तुत कर रही हैं :
इसलिए राह संघर्ष की हम चुनें – जिंदगी आंसुओं से नहाई ना हो – शाम सहमी न हो रात हो ना डरी-
भोर की आँख फिर डबडबाई ना हो – सूर्य पर बादलों का न पहरा रहे – रौशनी रोशनाई में डूबी ना हो-
यूँ न ईमान फुटपाथ पर हो खड़ा – हर समय आत्मा सबकी ऊबी ना हो-
आसमां में टंगी हो न खुशहालियां –
कैद महलों में सबकी कमाई ना हो – कोई अपनी ख़ुशी के लिए गैर की –
रोटियां छीन ले हम नहीं चाहते – छींटकर थोड़ा चारा कोई उम्र की – हर ख़ुशी बीन ले हम नहीं चाहते – हो किसी के लिए मखमली बिस्तरा –
और किसी के लिए एक चटाई ना हो – अब तमन्नाएं फिर ना करें खुदकुशी-
खोभ पर खोभ की चौकशी ना रहे-
श्रम के पांव में हो ना पड़ी बेड़ियां-
सत्य की पीठ पर ज्यादती ना सहे-
दम ना तोड़े कहीं भूख से बचपना-
रोटियों के लिए फिर लड़ाई ना हो – इसलिए...इसलिए...

Posted on: Jan 24, 2015. Tags: Anima Banerjee

संकल्प हो हमारा, इंसान हम बनेंगे...

संकल्प हो हमारा, इंसान हम बनेंगे
इंसान बन गए तो, भगवान हम बनेंगे...
हम एक ही चमन के हैं फूल न्यारे न्यारे
लगते हैं कितने प्यारे खिलते रहें खिलेंगे
हम एक ही गगन के चमके हुए सितारे
लगते हैं कितने प्यारे हँसते रहें हँसेंगे

Posted on: Jul 01, 2014. Tags: Anima Banerjee

संघर्ष और निर्माण...छत्तीसगढ़ी संघर्ष गीत

अनीमा बनर्जी ग्राम-पोस्ट पोलमी,ब्लाक पंडरिया, जिला कबीरधाम (छ.ग.) से एक छत्तीसगढ़ी संघर्ष गीत गा रही हैं...
मोर माटी के मितान, चल मजदूर और किसान
जुर्म-अत्याचार ला, मिटाए बर करो
संघर्ष और निर्माण, संघर्ष और निर्माण
ए धरती के रखवाला, किसान भोले-भाला
मेहनतकश मजदूर, दुनिया बनानेवाला
हमार गा कमाई में, दुनिया हा जियत है
कौन पापी-बैरी, हमर लहू ला पियत है
भाई नौजवान, उठो सीना तान
जुर्म और अत्याचार ला, मिटाए बर करो
संघर्ष और निर्माण, संघर्ष और निर्माण

Posted on: Jun 29, 2014. Tags: Anima Banerjee

Gondi song from Kondagaon Bastar in Tribal Dance festival in Khajuraho...

Anima Banerjee is calling from Khajuraho in Madhya Pradesh where she is attending Indian Traditional Folk and Tribal dance festival. Tribal dancers from Badgaiya village from Kondagaon district in Bastar Chhattisgarh are singing a traditional song in Gondi language. For more Anima Ji can be reached at 8717872770

Posted on: Feb 18, 2014. Tags: ANIMA BANERJEE BASTAR KONDAGAON

Baiga adivasi villages have no handpump, School, Anganwadi, electricity...

Anima Bannerjee from Pandaria block in Kawardha district of Chhattisgarh is telling us about 11 villages where Baiga adivasis are living for generations. She says there are no handpump in these villages and adivasis are forced to drink dirty water from streams. There are no school and anganwadi. Govt started work of electrification few years ago but that is no completed. You are requested to help. For more Anima Ji can be reached at 08717872770

Posted on: Jul 29, 2013. Tags: ANIMA BANERJEE EDUCATION ELECTRICITY HANDPUMP WATER

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download