5.6.31 Welcome to CGNet Swara

रे रे लोयो रेला रेला, रे रे लोयो रेला रेला...रेला गीत -

ग्राम-रानी डोंगरी, ब्लाक-चारामा, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से आशा बाई, गिरजा बाई एक रेला गीत सुना रही है:
रे रे लोयो रेला रेला, रे रे लोयो रेला रेला-
चलो मामा गवर खेदा, चलो मामा गवर खेदा-
मिरगा मारेला मामा जाबो, मिरगा मारेला मामा जाबो-
कटे जंगल मामा जाबो, कटे जंगल मामा जाबो-
माडी विलो री री रीलो माडी विलो री री रीलो-
झालिया मारी मामा जाबो, झालिया मारी मामा जाबो...

Posted on: Jan 05, 2018. Tags: ASHA BAI GIRJA BAI

जहाँ देखिये वहां माल फेकिये...गीत -

ग्राम-तिर्कुंडा, विकासखंड-रामचन्द्रपुर, तहसील-रामानुजगंज, जिला-बलरामपुर (छत्तीसगढ़) से उमाशंकर यादव एक गीत सुना रहे है:
जहाँ देखिये वहां माल फेकिये-
जिधर नहीं है नया है संदक-
उधर कीचड़ में फंस जायेंगे-
जिधर पक्का है उधर देखिये-
रास्ता कितना अच्छा है-
जिसमे हम किसी नीति का जमीन अच्छा है...

Posted on: Dec 07, 2017. Tags: UMASHANKAR YADAV

कहाँ वाला अवला भईया ससुरा अवला भईया...भजन गीत

ग्राम-त्रिकुंडा, विकासखंड-रामचंद्रपुर, तहसील-रामानुजगंज, जिला-सरगुजा (छत्तीसगढ़) से उमाशंकर यादव एक भजन गीत सुना रहे हैं:
कहाँ वाला अवला भईया ससुरा अवला भईया-
छेना-रसगुल्ला ललका रुमाल में – खोल के देखईहा घरवा में-
जब से भईला तोहर शादी-
वोही दिन से कइला हमर बर्बादी-
खाईला तू छेना-रसगुल्ला घरवा में न-
घरवा से ले ले लईहां-
ख़तम हो गईला रसगुल्ला-
अब बारी- बारी से रसगुल्ला न निकाल के खईबा-
कहाँ व लयावल भईया ससुरा लयावल भईया...

Posted on: Oct 09, 2017. Tags: UMASHANKAR YADAV

नउक चउक चौक ऊपर कलश....गीत

ग्राम-उमरखोही, जिला-बिलासपुर (छत्तीसगढ़) से आशा नेटी और गीता टेकाम सीजीनेट यात्रा से ग्रामीण महिलाओं के सांथ हैं ये एक गीत सुना रही है :
नउक चउक चौक ऊपर कलश-
कलश ऊपर दियन ऊपर बाती-
अरसी के तेल लेओ जले सारी राती-
देवी गंगा,गायेके दरश मायेके पड़ा वो परस-
हमार बोजली दाई के सुनी-सुनी कलश-
राम धरे धनुष,लक्ष्मण धरे बाण-
सीता माई के खोजन में निकल गे हनुमान...

Posted on: Sep 08, 2017. Tags: ASHA NETI GEETA TEKAM

टीचर जी एक बार मुस्कुराओ, मेरा प्यार सदा दिल में रखो...शिक्षक दिवस पर गीत

ग्राम-ताराडांड, पोस्ट-जमुड़ी, जिला-अनुपपुर (मध्यप्रदेश) से आशा सिंह नेटी शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में एक गीत सुना रही है :
टीचर जी एक बार मुस्कुराओं, मेरा प्यार सदा दिल में रखो-
A,B,C,D पढना सिखाया, A,B,C,D लिखना सिखाया-
टीचर जी एक बार मुस्कुराओं, मेरा प्यार सदा दिल में रखों-
क,ख,ग घ पढना सिखाया, मेरा प्यार सदा दिल में रखों-
टीचर जी एक बार मुस्कुराओं, मेरा प्यार सदा दिल में रखो...

Posted on: Sep 05, 2017. Tags: ASHA SINGH NETI

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download


From our supporters »