आदिवासी युवा छात्र संघटन युवाओं को संविधान और संस्कृति का प्रशिक्षण देना चाहता है...

जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से अनमोल मंडावी आदिवासी युवा छात्र संघटन के अध्यक्ष बता रहे है कि कुछ समय से कुछ विघटनकारी तत्वों की वजह से हमारा जो सवैंधानिक अधिकार है वो उनसे छीन लिया जा रहा था और हमारी जो परम्परा है जो दूसरे धर्म के संपर्क में आ जाने ये खतम हो जा रहा था | तो उन्होंने सोचा कि ये युवा पीढी जो आज के डेट में बहुत ज्यादा पढ़े लिखे है ऐसे लोगो को उनके साथ लेकर उनको सवैंधानिक रूप से प्रशिक्षणों के माध्यम से सशक्त करके उच्च क्लास का लीडर बनाया जाये जो गाँव-गाँव में जाकर सवैंधानिक अधिकारों और हमारी जो संस्कृति है उनके संरक्षण के लिए गाँव के लोगो को प्रेरित करें. उत्तम अटाला@9404984750.

Posted on: Jun 10, 2018. Tags: ANMOL MANDAVI