भूमि का नामांकन के लिये आवेदन करते हैं अधिकारी ध्यान नहीं देते...

ग्राम पंचायत-जोलकी, पोस्ट-रामगढ़, तहसील-भरतपुर, जिला-कोरिया (छत्तीसगढ़) से अमृतलाल यादव बता रहे हैं वे अपने जमीन का नामांकन कराने के लिये कई बार पटवारी, तहसीलदार के पास आवेदन कर चुके हैं लेकिन अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं, भूमि का खसरा नंबर 103 है जो भूमि सुखलाल के नाम पर है लेकिन उनकी मृत्यु हो चुकी है जिसके कारण उस जमीन को कौशिल्या के नाम पर करना है लेकिन अधिकारी आज कल बोलकर गुमराह कर रहे हैं, इसलिये वे परेशान होकर सीजीनेट के साथियों से अपील कर रहे हैं कि दिये नंबरों पर बात कर समस्या का निराकरण कराने में मदद करें : पटवारी / भरत यादव@9754157716, तहसीलदार@9926131044, सचिव@9644814334, उपसरपंच@9617874488. संपर्क नंबर@9977741285.

Posted on: Jan 23, 2020. Tags: AMRITLAL YADAV CG KORIYA PROBLEM

बैल बिराने होइयो भजन बिना...भजन-

ग्राम पंचायत-जोलगी, तहसील-भरतपुर, जिला-कोरिया (छत्तीसगढ़) से अमृतलाल यादव एक भजन गीत सुना रहे हैं:
बैल बिराने होइयो भजन बिना-
चार पांव टूटे कंधे-
जोतत लादत लकुटी बजनी-
भार धरे मार जईयो भजन बिना-
पूस घाव में घनगी पत घनेरी-
फिर कहां सो धुनईयो भजन बिना...

Posted on: Jan 03, 2020. Tags: AMRITLAL YADAV CG KORIYA SONG

जिस भजन में राम का नाम न हो...भजन-

ग्राम पंचायत-जोलगी, तहसील-भरतपुर, जिला-कोरिया (छत्तीसगढ़) से अमृतलाल यादव एक गीत सुना रहे हैं :
जिस भजन में राम का नाम न हो, उस भजन को गाना न चाहिये-
चाहे बेटा कितना प्यारा हो, उसे सिर पर बैठाना न चाहिये-
चाहे कितनो अमीरी आ जाये, अभिमान दिखाना न चाहिये-
चाहे कितनो गरीबी आ जाये, प्रभु को भुलाना न चाहिये-
जिस भजन में राम का नाम न हो, उस भजन को गाना न चाहिये...

Posted on: Dec 10, 2019. Tags: AMRITLAL YADAV CG KORIYA SONG

प्रभु जी से प्रेम लगाना क्या तुम सहज ना जाना...भजन -

ग्राम-गिलगी, पंचायत-लाखनटोला, तहसील-भरतपुर, जिला-कोरिया (छत्तीसगढ़) से अमृतलाल यादव एक भजन सुना रहे हैं :
प्रभु जी से प्रेम लगाना क्या तुम सहज ना जाना – प्रेम किया था राजा मोरथधुज ने
सोते पर आरा चलाना क्या तुम सहज ना जाना – प्रेम किया था भक्त प्रह्लाद ने – सोते पर आरा चलाना क्या तुम सहज ना जाना...

Posted on: Dec 16, 2017. Tags: AMRITLAL YADAV

जिस भजन में राम का नाम न हो...राम भजन गीत -

ग्राम-लाखनटोला, जिला-कोरिया, (छत्तीसगढ़) से अमृतलाल यादव एक भजन गीत सुना रहे है:
जिस भजन में राम का नाम न हो-
उस भजन को गाना न चाहिए-
चाहे बेटा कितना प्यारा हो-
उसे सिर पे बिठाना न चाहिए-
जिस पिता ने हमको पाला है-
उसे कभी सताना न चाहिए-
जिस माँ ने हमको जनम दिया-
दिल उसका दुखाना न चाहिए-
जिस भजन में राम का नाम न हो...

Posted on: Dec 16, 2017. Tags: AMRITLAL YADAV

View Older Reports »

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download