हले हो चिर्रा भईया सीता माता हीर कईका मोला...कुडुक भाषा में रामायण गीत

ग्राम-कुरुमगढ़, प्रखण्ड-चैनपुर, जिला-गुमला (झारखण्ड) से आजाद बाग कुडुक भाषा में रामायण गीत सुना रहे हैं:
हले हो चिर्रा भईया सीता माता हीर कईका मोला-
हले हो चिर्रा भईया गच-गच नुकुदाय-
सीता माता हीर कईका मोला-
ऐ रगा ईईर कान चिरिट-चिरिट बात कोन-
जोगी बेसे रावन बरचा की ऐंदेर नोनो-
हाना हो चिगला भईया-
हींग परता-परता नुकुदाय सीता माता हीर कईका मोला...

Posted on: Jul 16, 2018. Tags: AJAD BAAG SONG

सुरुजा के लागथे गहा अन चलू देखे जा...झारखंडी आदिवासी गीत

ग्राम-कुरूमगढ़, पंचायत-बमदा, प्रखंड-चैनपुर, जिला-गुमला (झारखंड) से आजाद बाग एक गीत सुना रहे है:
सुरुजा के लागथे गहा अन चलू देखे जा-
सुरुजा के लागथे गुहान सुरुजा के लागथे गुहान-
कोई करा सोना दान कोई करे रूपा दान-
अऊर करे बछियाक दान चलू देखे जाब-
राजा करे सोना क दान रानी करे रूपा दान-
सुरुजा के लागथे गहा अन चलू देखे जा...

Posted on: Jul 08, 2018. Tags: AJAD BAAG SONG

जंगल में सिपाही घूमे कितने पटवारी रे...दमकच गीत

ग्राम-पथरी, पंचायत-लुरगीकला, जिला बलरामपुर से माध्यमिक शाला के बच्चे स्थानीय भाषा में एक दमकच गीत प्रस्तुत कर रहे हैं, गीत का संदर्भ यह है कि विविध लोगों के द्वारा अपने-अपने कर्तव्य का पालन किस रूप में किया जाता है:
जंगल में सिपाही घूमे कितने पटवारी रे-
कुड़सी में मास्टर करे बिदिया पढ़ान-
श्रीमती इंदिरा गांधी देश के प्रधानमंत्री-
पापी से पंजाबी दुश्मन गोली से उड़ान-
जंगल में सिपाही घूमे कितने पटवारी रे...

Posted on: Jan 08, 2016. Tags: GAJADHAR CHAUHAN