पीड़ितो का रजिस्टर : मुझे नक्सली समझकर जेल ले गये, तब घर का खर्च चलाने में बहुत समस्या हुई...

ग्राम-कवाची कटेल,पोस्ट-कोदापाका, थाना-दुर्गकोंदल, जिला-कांकेर (छत्तीसगढ़) से आयतुराम कवाची बता रहे हैं कि दो साल पहले वह अपने घर में आराम कर रहे थे कुछ पुलिस वाले शाम 5 बजे उनके घर आए और उन्हें गिरफ्तार कर लिया|उन्हें शक था की आयतु नक्सल गतिविधियों में शामिल था| उन्हें जेल भी हुई, 4 महीने तक वे जेल में रहे| सबूत कुछ भी नही मिला इसलिए उन्हें छोड़ दिया गया| जब आयतुराम जेल में थे, तब उनकी पत्नी घर में अकेली थी, पति की गैरहाजिरी में घर का खर्च चलाने के लिए उसे रोजी मजदूरी करनी पड़ती थी, उसी में से कुछ पैसे बचाकर वह अपने पति से मिलने जेल जाया करती थी| उनके पास अपने पति की जमानत के लिये भी पैसे नहीं थे, 40 हजार रूपये उधार लेकर उनकी जमानत करे| वे अभी तक उधार की रकम नहीं लौटा पाए हैं| वे चाहते हैं कि इस मामले में जो भी खर्च हुआ है, सरकार वो पैसे लौटाए सम्पर्क@7648055415 (RM)

Posted on: Nov 30, -0001. Tags: AATURAM KAWACHI VICTIM REGISTER