बस्तर में मिलने वाला लाल चींटी दवाई के रूप मे खाया जाता है,जोकि लाभदायक है-

ग्राम-हाटपदमुर, ब्लाक-जगदलपुर, जिला-बस्तर (छत्तीसगढ़) से जगतराम पुजारी जी बता रहे हैं बस्तर में मिलने वाला चापड़ा जिसे लाल चींटी कहते है ये चापड़ा पेड़ के पत्तों पर घोंसला बनाकर रहते हैं और इसमें छोटे-छोटे लाल चींटिया पाई जाती हैं|इस लाल चींटी को लोग चटनी बनाकर खाते हैं| इसका स्वाद खाने में खट्टा होता है| इस चटनी को खाकर लोग मलेरिया,सरदर्द,साधारण बुखार,पीत बुखार से निजात पाते हैं| अधिक जानकारी के लिए संपर्क नंबर@6232510142.

Posted on: Jan 07, 2022. Tags: ANT BASTAR BENIFIT CG DEPARTMENT HATPADMUR HELTH JAGTRAM PUJARI OF RED

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download