कागज का नोट है कागज का पैसा भईया...कविता-

प्रयागराज, उत्तर प्रदेश से सुशील कुमार महिला दिवस पर संदेश दे रहे हैं और कविता सुना रहे हैं, “कागज का नोट है कागज का पैसा भईया” |
कागज का नोट है-
कागज का पैसा भईया-
नियत में खोट है-
चलो भईया गांव के नगरिया...

Posted on: Mar 08, 2021. Tags: POEM PRAYAGRAJ SUSHIL KUMAR UP

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »


YouTube Channel




Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download