चुभते हैं कांटे आलपीन से, दूर रहना है चीन से...गीत-

राजनांदगाँव (छत्तीसगढ़) से वीरेन्द्र गंधर्व एक गीत सुना रहे हैं:
चुभते हैं कांटे आलपीन से-
दूर रहना है चीन से-
दुनिया में छाई चीनी फैक्ट्री-
माल घटिया बनती घड़ी घड़ी-
कुछ दिनों में दुटते है क्रेन से-
दूर रहना है चीन से-
चुभते हैं कांटे आलपीन से-
दूर रहना है चीन से... (AR)

Posted on: Jun 27, 2020. Tags: CG RAJNANDGAON VIRENDRA GANDHARV