धान की खेती करते हैं, जितना आवश्यक है रखते हैं बाकि को बाजार में बेचते हैं...

बड़े कुसनाड, जिला-कोंडागांव (छत्तीसगढ़) से सुखीराम बता रहे हैं, वे किसान हैं, कई पीढ़ियों से खेती का काम कर रहे हैं, खेती के लिये आधुनिक और पारंपरिक दोनो साधनों का उपयोग करते हैं, खाद के लिये जैविक और राशायानिक दोनों खाद का उपयोग करते हैं, धान की खेती करते हैं, उपज जितना आवश्यक है रखते हैं बाकि को बेच देते हैं, इससे उपज के साथ पैसा भी मिल जाता है जिससे घर का खर्च चलता है| (AR)

Posted on: Jul 09, 2020. Tags: CG KONDAGAON STORY SUKHIRAM