काली चुनरिया के कोर काला...होली गीत

ग्राम-नोनारी,जिला रीवा (मध्यप्रदेश) से अखिलेश कुमारी एक होली गीत सुना रही हैं:
काली चुनरिया के कोर काला, पिया पानी न जाबये नजर लागी-
चाहे ससुर जी तुम भर लाबा, चाहे भरयें अब सास रानी-
चाहे जेठ जी तुम भर लाबा, चाहे भरयें अब जेठ रानी-
चाहे देवर जी तुम भर लाबा, चाहे भरयें अब लहुर रानी-
काली चुनरिया के कोर काला पिया पानी न जाबये नजर लागी...

Posted on: Mar 10, 2020. Tags: AKHILESH KUMARI HOLI MP REWA SONG