सरकारी स्कूलों को देख आता है मुझे रोना...कविता-

ग्राम-तमनार, जिला-रायगढ़ (छत्तीसगढ़) से कन्हैयालाल पड़ियारी एक कविता सुना रहे हैं:
सरकारी स्कूलों को देख आता है मुझे रोना-
जहाँ बच्चो का रहता कोलाहल-
अब लगता भारी सूना सूना-
निजी स्कूलों को सरकारी खिलौना-
धन्न है सरकारी निति-
बना डाला हमको खूब खिलौना...

Posted on: Feb 26, 2020. Tags: CG KANHAIYALAL PADIHARI POEM RAIGARH

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download