तन में ग्रहण मन में ग्रहण...गीत-

ग्राम-तमनार, जिला-रायगढ़ (छत्तीगढ़) से राजेंद्र गुप्ता एक कविता सुना रहे हैं:
तन में ग्रहण मन में ग्रहण-
ग्रहण, ग्रहण, ग्रहण-
जिंदल को ग्रहण, मोनेट को ग्रहण-
ग्रहण, ग्रहण, ग्रहण-
हर जगह ग्रहण-
2020 का ग्रहण आने वाला है प्रभू-
तन में ग्रहण मन में ग्रहण-
ग्रहण, ग्रहण, ग्रहण...

Posted on: Apr 15, 2020. Tags: CG POEM RAIGARH RAJENDRA GUPTA