कविता : अगर कंही मै घोडा होता वह भी लम्बा चौड़ा होता...

ग्राम-रक्सा, पोस्ट-फुनगा, थाना-भालूमडा, जिला-अनूपपुर (मध्यप्रदेश) से दिव्या जोगी एक कविता सुना रही हैं :
अगर कंही मै घोडा होता वह भी लम्बा चौड़ा होता-
तुम्हे पीठ पर बैठा करके बहोत तेज मै दौड़ा होता-
पलक झपकते मै उड़ जाता दूर पहाडियों के वादी में-
बाते करता उडी हवा से विनाये में आदि में-
अगर कंही मै घोडा होता वह भी लम्बा चौड़ा होता...

Posted on: Nov 14, 2019. Tags: ANUPPUR MP DIVYA JOGI SONG

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download