छत्तीसगढ़ी गीत: राजा के राज छुटे, रैयत की बेग़ारी...

ग्राम-बोंगा, ब्लॉक-प्रतापपुर, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से लाल साय श्याम राजा रजवाड़ो के राज में जो कठिनाई होती थी उसको लेकर गीत सुना रहे है:
राजा के राज छुटे, रैयत की बेग़ारी-
बड़े-बड़े बाबु भैया, भांजत है कुदारी-
हां हां, भांजत है कुदारी-
राजा के राज छुटे, रैयत की बेग़ारी-
बड़े-बड़े बाबु भैया, भांजत है कुदारी-
राजा के राज छुटे, रैयत की बेग़ारी...

Posted on: Nov 16, 2019. Tags: RUPLAL MARAVI SURAJPUR CG