अमल-धवन गिरी के सिखरो पर बादल को घिरते देखा है...कविता-

ग्राम-बटई, पोस्ट-रेवटी, जिला-सूरजपुर (छत्तीसगढ़) से दुर्गेश कुमार पटेल एक कविता सुना रहे हैं:
अमल-धवन गिरी के सिखरो पर बादल को घिरते देखा है-
छोटे-मोटे मोती जैसे उसके शीतल तुहिन कणों को-
मान सरोवर के श्रोणी कमलो पर गिरते देखा हैं-
छोटी-बढ़ी कई झीले हैं उनके श्यामल नील सनील में-
समतल देशों से आ आकर पवश की उमंग से आकुल...

Posted on: Sep 16, 2019. Tags: CG DURGESH KUMAR PATEL POEM SURAJPUR

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download