गांव के लोग परसा पान का पत्तल बनाकर उपयोग करते हैं-

ग्राम-नागाडबरा, पंचायत-माटपुर, तहसील-पंडरिया, जिला-कबीरधाम (छत्तीसगढ़) से श्यामकली परसा पान के उपयोग के बारे में बता रही हैं| परसा पान या पत्ता का उपयोग वे पत्तल बनाने के लिये करते हैं| जिसका उपयोग खाना खाने के काम होता है| वे एक दिन में 100 से 150 तक पत्तल बना लेते हैं| गांव में जब कोई बड़ा कार्यक्रम या शादी होता है| तब ग्रामीण उसका पत्तल बनाते हैं| ये उन्हें आसानी से उपलब्ध हो जाता है| पत्ते के उपयोग करने से उन्हें बर्तन धोने या ज्यादा संख्या में बर्तन खरीदने जैसी समस्या नहीं होती| और ये आसानी से नष्ट भी हो जाता है| जिससे वातावरण भी दूषित नहीं होता |

Posted on: May 31, 2019. Tags: CG KABIRDHAM MITHLESH MANIKPURI PANDARIYA

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download