पहले की तुलना में गांव में शिक्षा की स्थिती बदली है, अब लोग बच्चो को स्कूल में प्रवेश दिलाते हैं...

ग्राम-एर्राबोर, जिला-सुकमा (छत्तीसगढ़) से जालंधर सिंह निहाल बता रहे हैं| वे छात्रावास अधिक्षक हैं, और 2007 से कार्यरत हैं| उनके गांव में जून 2016 से शिक्षा के क्षेत्र में सुधार आया है| लोग अपने बच्चो को पढ़ने के लिये| ज्यादा स्कूल में प्रवेश दिला रहे हैं| जिसमे बालिकायें अधिक हैं| गांव में 12 वी कक्षा तक स्कूल है| बच्चो के रहने के लिये क्षत्रावास की सुविधा है| पहले की स्थिती में अब काफी सुधार हुआ है |

Posted on: May 05, 2019. Tags: BHOLA BAGHEL CG STORY SUKMA

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download