ज्योत से ज्योत जगाते चलो, प्रेम की गंगा बहाते चलो...देशभक्ति गीत

चिरोंजीलाल कुशवाह, ग्राम-लडवाही, तहसील-निवाड़ी, जिला-टीकमगढ़ (म.प्र.) से एक देशभक्ति गीत सुना रहे है:
ज्योत से ज्योत जगाते चलो-
प्रेम की गंगा बहाते चलो-
राह में आए जो दीन दुखी-
सबको गले से लगाते चलो-
जिसका न कोई संगी साथी ईश्वर है रखवाला-
जो निर्धन है जो निर्बल है वह है प्रभू का प्यारा-
प्यार के मोती लुटाते चलो प्रेम की गंगा...

Posted on: Jan 31, 2018. Tags: CHIRONJILAL KUSHWAHA

Recording a report on CGNet Swara

Search Reports »

Loading

Supported By »


Environics Trust
Gates Foundation
Hivos
International Center for Journalists
IPS Media Foundation
MacArthur Foundation
Sitara
UN Democracy Fund


Android App »


Click to Download